वाराणसी का प्रापर्टी डीलर सस्ते में चारपहिया लेने के चक्कर में हुआ 10 लाख ठगी का शिकार

0
5

रायपुर
सस्ते में बीएस-4 चार पहिया वाहन लेने के लिए वाराणसी से प्रापर्टी डीलर रायपुर पहुंचा और नगदी, पेटीएम और बैंक खाते से 10 लाख रुपए उसे देने के बाद भी जब चार पहिया वाहन उस तक नहीं पहुंचा तो ठगी का एहसास हुआ और एक बार फिर वह रायपुर आकर तेलीबांधा थाने में उक्त युवक के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। धमतरी का रहने वाला यह ठग उसे 15 दिन में गाड़ी दिलाने का वादा किया था और चार माह बीत गया।

वाराणसी के चौबेपुर निवासी हनुमान यादव प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता है। इसके चलते उसका रायपुर भी आना-जाना है। पड़ोसी गांव निवासी पप्पू यादव ने अपने घर में हनुमान का परिचय धमतरी निवासी भूपेंद्र उईके से कराया। बताया कि भूपेंद्र चारपहिया गाडि?ों की खरीद-बिक्री का काम करता है। इस दौरान भूपेंद्र ने उसे बीएस-4 की चारपहिया गाडि?ों पर आॅफर चलने की बात कही। इस पर हनुमान ने दो स्कॉर्पियो और एक बोलेरो खरीदने की इच्छा जताई। आरोप भूपेंद्र ने उसे रुपए लेकर रायपुर बुलाया और कहा कि वह गाड़ी दिला देगा। जनवरी में भूपेंद्र ने उसे मैग्नेटो मॉल के पास एक रेस्टोरेंट में पैसा लेकर आने को कहा। जब हनुमान पहुंचा तो वहां गाड़ी दिलाने के नाम पर एडवांस में 4.5 लाख रुपए नगद ले लिए और कहा कि 15 दिन में गाड़ी मिल जाएगी।

हनुमान का आरोप है कि 15 दिन बाद जब उसने भूपेंद्र से संपर्क किया तो मुंबई मिलने के लिए बुलाया। वहां कांदीवली में मुलाकात की और कहा कि और पैसा लगेगा। हनुमान का कहना है कि इसके बाद मार्च, अप्रैल और मई में किश्तों में उसे नगद, पेटीएम और खाते से 5.5 लाख रुपए भूपेंद्र को दिए। 10 लाख रुपए लेने के बाद भी जब चार पहिया वाहन उस तक नहीं पहुंची तो उसे ठगी का एहसास हुआ और उसने रायपुर आकर तेलीबांधा थाने में धमतरी निवासी भूपेंद्र उईके के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाया। पुलिस ने मामला दर्ज कर भूपेंद्र उईके की खोजबीन करने में लग गई है।