लोगों ने सुशांत की मौत का ‘तमाशा’ बना दिया: चेतन भगत

0
4

 

पिछले हफ्ते सुशांत सिंह राजपूत केस में एम्स की टीम ने अपनी फरेंसिक रिपोर्ट सीबीआई को सौंपी थी। इस रिपोर्ट में सुशांत की हत्या की किसी भी संभावना को खारिज करते हुए कहा है कि सुशांत की मौत आत्महत्या के कारण हुई। हालांकि इस रिपोर्ट पर सुशांत के परिवार सहित काफी लोगों ने मानने से इनकार कर दिया था और एम्स की रिपोर्ट पर शक जताया था। इस मामले में मशहूर लेखक चेतन भगत का भी रिऐक्शन आया है जिसमें उन्होंने एम्स की रिपोर्ट पर शक जताने वालों की आलोचना की है।

सुशांत की मौत को 'तमाशा' बना दिया
बॉलिवुड हंगामा की एक रिपोर्ट के मुताबिक, चेतन भगत ने नाराजगी जताते हुए कहा है कि लोगों ने सुशांत की मौत को 'तमाशा' बना दिया है। उन्होंने कहा कि हालांकि वह कभी एम्स नहीं गए हैं लेकिन वह एक ऐसा संस्थान हैं जहां एडमिशन और जॉब मिलना बेहद कठिन है। चेतन ने एम्स की तुलना आईआईटी दिल्ली से करते हुए कहा कि अगर कोई ऐसे संस्थान को 'भ्रष्ट' कहता है तो उन्हें काफी गुस्सा आता है। उन्होंने एम्स की रिपोर्ट पर शक करने वालों से कहा है कि पहले इस मामले में सबूत पेश करें।

केवल शक जताने वाले ही ईमानदार?
चेतन भगत ने कहा कि लोग केवल सुशांत मामले में आई एम्स की रिपोर्ट के खिलाफ केवल इसलिए बोल रहे हैं क्योंकि उन्हें रिपोर्ट में लिखी बात पसंद नहीं हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को लगता है कि जो लोगों मन मुताबिक बात नहीं है उसे झूठ मान लिया जाता है और लोग सोचते हैं कि जैसे केवल वे ही ईमानदार हैं। सुशांत की मौत के मामले में चेतन भगत पहले भी बात करते रहे हैं। गौरतलब है कि सुशांत की डेब्यू फिल्म 'काई पो छे' चेतन भगत की मशहूर नॉवल '3 मिस्टेक्स ऑफ माय लाइफ' की कहानी पर ही आधारित थी।

सुशांत के परिवार ने खारिज की एम्स की रिपोर्ट
इस बीच बता दें कि सुशांत के परिवार के वकील विकास सिंह ने एम्स की रिपोर्ट को पूरी तरह खारिज कर दिया है और उन्होंने इसे गलत बताया है। विकास सिंह ने कहा है कि वह सीबीआई डायरेक्टर से बात करेंगे कि सुशांत के केस में एक नई फरेंसिक टीम का गठन किया जाए। सुशांत केस की जांच सीबीआई के अलावा मनी लॉन्ड्रिंग के ऐंगल से ईडी भी कर रहा है जिसमें अभी तक कुछ खास हाथ नहीं लगा है। इस केस में ड्रग्स का ऐंगल सामने आने के बाद एनसीबी ने भी अपनी जांच शुरू की थी जिसमें कई गिरफ्तारियां हो चुकी हैं और हाल में रिया चक्रवर्ती इस मामले में जेल से जमानत पर रिहा हुई हैं।