लापरवाही के चलते मासूम की गई जान

0
5

रतनपुर । परिजनों की जरा सी लापरवाही ने एक अबोध की जान ले ली लापरवाही केवल इतनी कि मासूम को घर मेंं छोडऩे के बाद उसके चाचा ने उसके माता-पिता को खबर नहीं कि मासम पहुंच गया तालाब के पास जहां संभवत: पैर फिसलने से वह डूब गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की।

घटना रतनपुर शुक्रवार के शाम थाना क्षेत्र के गांव लखराम की बताई जा रही है। जहां रहने वाले घनश्याम केवट के डेढ़ वर्षीय पुत्र लक्ष्य केवट को उसका चाचा अनिल केवट अपने साथ घूमने लेकर गया था। शाम को अनिल ने लक्ष्य को वापस उसके घर छोड़कर चले गया । उसने लक्ष्य को घर में छोड़े जाने की बात किसी को नहीं बताई जिससे उसके माता-पिता यही समझते रहे कि लक्ष्य अपने चाचा के साथ ही घूम रहा है। जब काफी देर तक अनिल घर वापस नहीं लौटा तो लक्ष्य के पिता ने उसे फोन किया तो अनिल ने बताया कि वह लक्ष्य को पहले ही घर पर छोड़ आया था। अनिल के द्वारा लक्ष्य को घर पर छोड़ दिए जाने की जानकारी मिलने पर उसके परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की तो तालाब में लक्ष्य का तैरता हुआ शव उन्हें दिखाई दिया। इसकी सूचना रतनपुर पुलिस को दी गई। शनिवार को मार्ग का पोस्टमार्टम के बाद बच्चे के शव को परिजनों को सौंप दिया गया।

पुलिस द्वारा अनुमान लगाया जा रहा है कि जैसे ही अनिल लक्ष्य को छोड़कर वापस जाने निकला होगा तो उसके पीछे पीछे डेढ़ साल का लक्ष्य भी बाहर निकल आया और घर के पास ही मौजूद जगुआ तालाब तक पहुंच गया होगा जहां वह फिसलने से तालाब में गिर गया होगा और डूबने से उसके मौत हो गई।