लाखों खर्च होने के बाद भी विकास कार्यों से कोसों दूर कबीरखेड़ी

0
1

शिवपुरी
जनपद पंचायत की एक पंचायत ऐंसी भी है जहां लाखों रुपये खर्च होने के बावजूद विकास कार्य दूर दूर तक नजर नहीं आते और आज भी ग्रामीणों को खतरों से खेलकर एक नाले को पार करना पड़ता है।

यह तस्वीर हैरान करने वाली है जिसमे महिलाएं और छोटे छोटे बच्चे पानी से भरे गहरे नाले को महज बिजली के खम्भे पर चलकर पार कर रहे हैं। यहां पूर्व में एक छोटी बच्ची के साथ हादसा भी हो चुका है और नाला पार करते हुए वह बच्ची पानी में जा गिरी जिसे ग्रामीणों ने बचा लिया था। यह तस्वीरें शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र के कबीरखेढी गांव की है। यहां के ग्रामीण रामनाथ यादव ने बताया कि सरपंच सचिव की मनमानी के चलते ग्राम कबीरखेड़ी के इस नाले पर पुलीया र्निमाण नहीं करवाया गया और मजबूरन ग्रमीणों को नाले पर डाले गए दो बिजली के खम्भों के सहारे यह नाला पार करना पड़ता है।

गांव के रामनाथ यादव का कहना है कि पिछले 15 बर्षों मे कलेक्टर से लेकर विधायक और मंत्रियों  तक गुहार लगा चुके हैं पर किसी ने भी सुध नहीं ली जबकि नाले के दुसरी तरफ  आठ परिवार निवास करते हैं और कोई अगर बीमार पड़ जाता है तो इस खम्भे के रास्ते से ही गुजरना पड़ता है साथ ही स्कूल जाने वाले बच्चे भी इसी खम्भे से गुजरते हैं यहां तक की सभी महिलाएं बच्चीयां भी इसी रास्ते से पानी भरकर लाती हैं। यहां प्रदेश सरकार विकास के चाहे जितने दाबे करे पर हकीकत तो सामने आ ही जाती है कबीरखेढी के इस गांव की हालत को देखते हुए यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि लाखों करोड़ों रुपये खर्च तो हुये हें पर विकास केवल फाईलों मे बंद है।

इनका कहना
ग्राम कबीरखेड़ी में केवल एक परिवार ही वहां निवास करता है फिर भी हम मामले को दिखवा लेते है यदि आवश्यक हुआ तो उचित कार्यवाही की जावेगी।
गगन वाजपेयी, सीईओ जनपद पंचायत, शिवपुरी