रामविलास पासवानपंचतत्व में विलीन,बेटे चिराग ने दी मुखाग्नि

0
9

पटना
एलजेपी संस्थापक और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। पटना के दीघा घाट स्थित जनार्दन घाट पर दिवंगत नेता को अंतिम विदाई दी गई। इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ केंद्र सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद मौजूद रहे। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय राज्य मंत्री नित्यानंद राय, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, अश्वनी चौबे भी शामिल हुए। साथ ही नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी अंतिम विदाई देने के लिए पहुंचे। इस दौरान बेहद भावुक करने देने वाला मौका भी आया जब बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान से मिले।

रामकृपाल यादव से लिपटकर रोने लगे चिराग
बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव जैसे ही चिराग पासवान से मिलने पहुंचे, तो एलजेपी अध्यक्ष उन्हें देखते ही उनसे लिपट गए और फूट-फूटकर रोने लगे। चिराग पासवान की इस स्थिति को देखकर रामकृपाल यादव भी अपने आंसू नहीं रोक सके। वो भी जोर-जोर से फफक पड़े। दोनों नेताओं ने एक-दूसरे संभालने की कोशिश की।

अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब, जमकर लगे नारे
रामविलास पासवान की अंतिम यात्रा में माहौल बेहद गमगीन नजर आया। इस दौरान 'जब तक सूरज चांद रहेगा रामविलास तेरा नाम रहेगा' नारे के साथ-साथ 'गूंजे धरती आसमान रामविलास पासवान' के भी नारे भी लगे। अंतिम यात्रा के दौरान एलजेपी के कुछ कार्यकर्ताओं ने ही यह भी नारा लगाया 'चिराग पासवान मत घबराना तुम्हारे पीछे सारा जमाना।'

गंगा किनारे दीघा घाट पर अंतिम संस्कार
पटना के दीघा घाट पर दिवंगत रामविलास पासवान का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान बिहार के सीएम नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय और गिरिराज सिंह समेत बिहार सरकार के कई मंत्री और नेता भी उपस्थित रहे।