राज्य में अब तक 358 मरीज मिले, कोरोना के बाद बिहार में डेंगू ने पांव पसारे

0
1

पटना 
कोरोना संक्रमण के बाद अब बिहार में डेंगू ने अपने पांव पसारना शुरू कर दिया है। पटना समेत 11 जिलों में डेंगू के मरीजों की पहचान की जा चुकी है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिन जिलों में डेंगू के अधिक मरीज मिले हैं उनमें पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, औरंगाबाद, बेगूसराय, गोपालगंज, नालंदा, पश्चिम चंपारण, वैशाली, सीतामढ़ी व सारण शामिल हैं। हालांकि नौ जिलों में अब तक डेंगू का एक भी मरीज नहीं मिला है, जबकि 18 अन्य जिलों में एक-दो मरीज पाए गए हैं। विभाग की ओर से डेंगू के नियंत्रण को लेकर सभी जिलों में बुखार के मरीजों की जांच कराने का निर्देश दिया गया है। 

358 डेंगू के मरीजों की पहचान 
राज्य में जनवरी 2020 से अब तक 358 डेंगू के मरीजों की पहचान की गयी है। इनमें पटना में सर्वाधिक 242 मरीजों की पहचान की गयी है, जबकि मुजफ्फरपुर में 40, भागलपुर में 10, नालंदा में 5,  गोपालगंज, पश्चिम चंपारण व वैशाली में 4-4 और सीतामढ़ी, बेगूसराय व औरंगाबाद में 3-3 डेंगू के मरीजों की पहचान की गयी है। इनके अतिरिक्त राज्य के कुल 38 में 18 जिलों में एक व दो डेंगू के मरीजों की पहचान की गयी है।

नौ जिलों में एक भी मरीज नहीं 
स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार राज्य के नौ जिलों में डेंगू के एक भी मरीज अब तक नहीं मिले हैं। इनमें शेखपुरा, शिवहर, कटिहार, कैमूर, खगड़िया, किशनगंज, नवादा, सहरसा व सीवान शामिल हैं। 

बेड आरक्षित 
पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल व नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में डेंगू के मरीजों के इलाज को लेकर कुल 30 बेड को आरक्षित किया गया है। इन बेडों पर अभी एक भी डेंगू के मरीज भर्ती नहीं है।