मेंदाता हॉस्पिटल में आज सुबह डिप्टी कलेक्टर आरके पांडे ने तोड़ा दम

0
4

ग्वालियर
आज मंगलवार के दिन की शुरूआत कोरोना संक्रमण के लिहाज से जिले के लिए एक दुखद खबर  देने वाली रही। कोरोना संक्रमित डिप्टी कलेक्टर राघवेंद्र कुमार पांडे की मौत हो गई। गुरूग्राम के मेदांता हॉस्पिटल में इलाज के दौरान उन्होने आज सुबह करीब 8 बजे दम तोड़ दिया। कोरोना पॉजीटिव आने के बाद वह होम आइसोलेशन में थे, लेकिन जब तबीयत में सुधार नहीं हुआ तो उन्हे मेदांता हॉस्पिटल ले जाया गया। बताया जाता है कि हालही में उन्हे प्लाज्मा थैरेपी भी दी गई थी, लेकिन स्थिति में ज्यादा सुधार नहीं आ सका।

आज सुबह अचानक तबीयत बिगड़ी और उनकी मौत हो गई। मूलता गोरखपुर के रहने वाले श्री पांडे वर्तमान में डबरा एसडीएम के पद पर पदस्थ थे और लगातार लोगों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए काम कर रहें थे। बेहद मिलनसार और मृदुभाषी श्री पांडे की अचानक मौत से प्रशासनिक अधिकारियों से लेकर हर कोई स्तब्ध हैं। उप जिला निर्वाचन अधिकारी का काम भी देख रहे श्री पांडे का हांलही में दतिया तबादला किया गया था।

कोरोना से जंग लड़ने वाले एसडीएम आरके पांडे की मौत की खबर जब आई तो प्रशासनिक अधिकारियों को पहले तो भरोसा ही नहीं हुआ। उनके साथी अन्य एसडीएम ने जब उनके परिवार से संपर्क किया तो निधन की खबर सही निकलने से हैरान रह गए। खुद ग्वालियर कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने प्रदेश टुडे से बात करते हुए कहा कि काम के प्रति बेहद सजग आरके पांडे के निधन की सूचना ने मुझे अंदर से दुखी कर दिया है।