मास्क के बदले मुंह पर ₹10, मिला यह ‘गिफ्ट’

0
22

मेरठ
कोरोना वायरस महामारी (coronavirus) को रोकने के लिए देश भर में लॉकडाउन (lockdown) के चौथे संस्करण को शुरू करने की तैयारी चल रही है। इस बीच लॉकडाउन को लेकर सरकारी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने वाले अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे हैं। शनिवार को उत्तर प्रदेश के मेरठ में पुलिस ने दो युवकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। दोनों युवकों के चेहरे पर मास्क नहीं था और उनमें से एक ने पुलिस से बचने के लिए मास्क की जगह मुंह पर 10 रुपये का नोट चिपका रखा था।

मेरठ के सिविल लाइन्स थाने के सर्किल ऑफिसर संजीव देसवाल ने बताया कि वह लॉकडाउन ड्यूटी पर थे, जब उन्होंने दोनों युवकों को बाइक पर सवार होकर जाते देखा। बाइक चलाने वाला युवक मुंह पर रुमाल बांधे था। कॉन्स्टेबल ने जैसे ही उन्हें रोका, पीछे बैठे शख्स ने अपनी जेब से 10 रुपये का नोट निकाला और मुंह पर लगा लिया। उन्होंने कहा कि उनके पास मास्क नहीं है। इसके बाद पुलिस ने उन्हें दो मास्क गिफ्ट किए।

ऐक्शन में पुलिस
देसवाल ने बताया कि दोनों युवकों से जब पूछा गया कि लॉकडाउन में वे बाहर क्यों निकले हैं, तब दोनों ने इसका संतोषजनक जवाब नहीं दिया। इसके बाद पुलिस ने दोनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 और महामारी ऐक्ट की संबंधित धाराओं के तहत केस दर्ज किया। पुलिस के एक सूत्र ने बताया कि दोनों आरोपी आमिर और महबूब शहर में ठेकेदारी का काम करते हैं। उन्होंने बताया कि वे लोग शहर में अपने नियोक्ताओं से पैसे लेने जा रहे थे। मास्क न लगाए जाने के सवाल पर आमिर ने बताया कि एक मास्क की कीमत 40 रुपये है जबकि उनके पास केवल 10 रुपये थे, इसलिए उन्होंने इसे मास्क की तरह इस्तेमाल किया।

इसके बाद पुलिस ने उन्हें दो मास्क गिफ्ट किए। बता दें कि मेरठ जिले में कोरोना के 312 मामले सामने आए हैं। इनमें से 17 लोगों की घातक वायरस से मौत हो चुकी है। वहीं 95 लोगों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। फिलहाल, जिले में 200 ऐक्टिव मामले हैं।