मार्च 2021 तक उपलब्‍ध हो सकता है कोविड-19 का टीका,फेज-3 ट्रायल पूरा

0
1

मुंबई

कोविड-19 का टीका अगले साल मार्च तक उपलब्‍ध हो सकता है। भारत सरकार को उम्‍मीद है कि तब तक फेज-3 ट्रायल पूरा हो जाएगा और एक्‍सपर्ट्स से क्लियरेंस भी मिल जाएगा। देश में कुल तीन कोविड टीकों का इंसानों पर ट्रायल हो रहे हैं। सरकार को लगता है कि इनमें से दो तो मार्च तक लॉन्‍च के लिए तैयार हो जाएंगे। पिछले हफ्ते तीन बड़े वैक्‍सीन निर्माताओं के साथ सरकार ने बैठक की है। इसमें वैक्‍सीन की उपलब्‍धता से लेकर उसके रेगुलेटरी अप्रूवल, डिस्‍ट्रीब्‍यूशन की चुनौतियों पर बात हुई। अगर सबकुछ ठीक रहा तो ये कंपनियां मार्च तक वैक्‍सीन लॉन्‍च कर सकती हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन कह चुके हैं कि सरकार जुलाई 2021 तक 40-50 करोड़ डोज हासिल करने की योजना बना रही है। आइए जानते हैं वो कौन सी तीन कोरोना वैक्‍सीन हैं जिनमें से दो के मार्च तक लॉन्‍च होने की उम्‍मीद है।
कोविशील्‍ड है रेस में सबसे आगे

किसने बनाई: ऑक्‍सफर्ड यूनिवर्सिटी-अस्‍त्राजेनेका

सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने इसे भारत में लाने के लिए अस्‍त्राजेनेका से करार किया है।

किस तरह की वैक्‍सीन: नॉन-रेप्लिकेटिंग वायरल वेक्‍टर वैक्‍सीन

ह्यूमन ट्रायल स्‍टेटस: फेज 2

संभावित कीमत: SII के सीईओ अदार पूनावाला के मुताबिक, शुरुआत में कोविशील्‍ड की कीमत 1,000 रुपये के आसपास हो सकती है। निम्न और मध्यम आय श्रेणी में आने वाले देशों (LMICs) में महज 3 डॉलर (करीब 225 रुपये) में उपलब्ध करवाया जाएगा।
स्‍वदेशी कोवैक्सिन से पूरे देश को उम्‍मीदें

किसने बनाई: ICMR-NIV और भारत बायोटेक

किस तरह की वैक्‍सीन: इनऐक्टिवेटेड वायरस वैक्‍सीन

ह्यूमन ट्रायल स्‍टेटस: फेज 2

संभावित कीमत: भारत बायोटेक के एमडी डॉ कृष्‍णा एल्‍ला के अनुसार, वैक्‍सीन की कीमत एक बोतल की कीमत से भी कम होगी। यानी इसका मतलब कीमत 100 रुपये से खासी कम हो सकती है। हालांकि फाइनल कीमत का पता रेगुलेटरी अप्रूवल के बाद ही चल पाएगा।
जायकोव-डी वैक्‍सीन भी फेज 2 में

किसने बनाई: जायडस कैडिला

किस तरह की वैक्‍सीन: DNA बेस्‍ड वैक्‍सीन

ह्यूमन ट्रायल स्‍टेटस: फेज 2

संभावित कीमत: कंपनी ने कीमत को लेकर कोई जानकारी सामने नहीं रखी है। लेकिन बाकी डेवलपर्स की तरह जायडस कैडिला भी वैक्‍सीन के दाम 1,000 रुपये से कम रख सकता है।

जुलाई तक 25 करोड़ लोगों को टीके लगाने का प्‍लान

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ हर्षवर्धन के मुताबिक, सरकार जुलाई 2021 तक 20-25 करोड़ लोगों को टीका लगाने का प्‍लान कर रही है। उन्‍होंने रविवार को कहा था कि तब तक 40-50 करोड़ डोज हासिल हो जाएंगे। कोविड वैक्‍सीन की डबल डोज लगेगी यानी इतने से 20-25 करोड़ लोगों को टीका लग जाएगा। सरकार वैक्‍सीन के भंडारण और टीकाकरण की प्रक्रिया को लेकर फ्रेमवर्क तैयार करने के अंतिम चरण में है। शुरुआती डोज डॉक्‍टर्स, नर्सेज, पैरामेडिक्‍स जैसे हेल्‍थकेयर वर्कर्स को मिलेगी।