महबूबा मुफ्ती व्हाट्सऐप चैटलीक मुद्दे पर बोलीं- राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों को TRP तमाशा बना दिया गया

0
15

श्रीनगर 
पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को आरोप लगाया कि राष्ट्रीय सुरक्षा और अति महत्वपूर्ण मुद्दों को एक टीआरपी तमाशा बना दिया गया है। पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्णब गोस्वामी और टेलीविजन रेटिंग एजेंसी बीएआरसी के पूर्व सीईओ पी डी दासगुप्ता के बीच उन कथित व्हाट्सऐप संदेशों पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रही थीं जो मुंबई पुलिस द्वारा टीआरपी घोटाला मामले में दायर पूरक आरोपपत्र का कथित तौर हिस्सा हैं। उन्होंने बालाकोट हवाई हमलों का उल्लेख करते हुए दावा किया, आज यह स्पष्ट हो गया है कि वह पुलवामा हमले के शहीदों का बदला नहीं लेने के लिए नहीं बल्कि एक विशेष दल को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया था। महबूबा ने ट्वीट किया, राष्ट्रीय सुरक्षा और अति महत्वपूर्ण मुद्दों को एक टीआरपी तमाशा बना दिया गया है जो भाजपा को फायदा पहुंचाते हैं और गलत विमर्श बनाते हैं। लोगों को फर्जी समाचारों पर विश्वास कराया जाता है, देश में और देश के बाहर के काल्पनिक शत्रुओं से नफरता कराया जाता है। राष्ट्र जानना चाहता है कि इसकी कीमत कौन चुकाएगा?

बता दें कि अर्नब गोस्वामी और बार्क के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता के बीच की कुछ कथित वॉट्सऐप चैट्स सामने आई हैं। इंटरनेट पर वायरल हो रहीं ये चैट्स टीआरपी मामले में मुंबई पुलिस द्वारा दायर सप्लीमेंट्री चार्जशीट का हिस्सा हैं। माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर इन कथित चैट्स के विभिन्न हिस्से ट्वीट किए जा रहे हैं। इनमें गोस्वामी और दासगुप्ता के बीच एनबीए को जाम करने, केंद्र सरकार के मंत्रियों का समर्थन आदि को लेकर जिक्र किया गया है। वहीं, चैट में बालाकोट एयर स्ट्राइक से तीन दिन पहले किसी बड़ी स्ट्राइक का जिक्र भी है। इन वायरल वॉट्सऐप चैट्स में अर्नब गोस्वामी 23 फरवरी, 2019 को तत्कालीन बार्क सीईओ से कहते कि 'कुछ बड़ा' होने वाला है, जिसके बाद जब उनसे कहा गया कि क्या यह दाऊद के बारे में है तो वह जवाब देते हैं, ''नहीं सर, पाकिस्तान। इस बार कुछ अहम होने जा रहा है।'' पार्थो दासगुप्ता अगले जवाब में स्ट्राइक का जिक्र करते हैं तो अर्नब कहते हैं, ''नॉर्मल स्ट्राइक से बड़ी स्ट्राइक होने वाली है और उसी समय कश्मीर में भी कुछ अहम होगा।'' मालूम हो कि साल 2019 में 14 फरवरी को पुलवामा में आतंकी हमला हुआ था, जिसके बाद 26 फरवरी को भारत ने बालाकोट एयरस्ट्राइक कर पाकिस्तान के कई आतंकी ठिकानों को धवस्त कर दिया था।