बिहार विधानसभा चुनाव: सीमांचल के 24 सीटों पर रोचक होगा मुकाबला

0
2

पूर्णिया 
बिहार विधानसभा चुनाव में सीमांचल में रोचक सियासी मुकाबला होने वाला है। सीमांचल के 4  जिले पूर्णिया, कटिहार, अररिया व किशनगंज में 24 विधानसभा क्षेत्रों में करीब 60 लाख मतदाता इस बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। 

लोकसभा चुनाव में जदयू-भाजपा गठबंधन ने सीमांचल में नया राजनीतिक प्रयोग किया था। इसके तहत लोकसभा चुनाव में चार में तीन सीटों पर जदयू और एक सीट पर भाजपा प्रत्याशी मैदान में उतरे थे। पूर्णिया लोकसभा सीट दोबारा जदयू के खाते में गयी थी, जबकि कटिहार में नया प्रयोग भी सफल रहा। कटिहार से जदयू ने अपना प्रत्याशी मैदान में उतारा। जदयू को फतेह भी मिली। किशनगंज में भी जदयू प्रत्याशी ने कड़ी टक्कर दी थी। लोकसभा चुनाव में अररिया सीट भाजपा के खाते में गयी थी। 2020 के विधानसभा चुनाव में जदयू, भाजपा व लोजपा एक साथ मैदान में हैं, तो दूसरी तरफ राजद-कांग्रेस महागठबंधन। 2015 के विधानसभा चुनाव में जदयू, राजद और कांग्रेस का महागठबंधन था।

इस बार नए सियासी समीकरण के साथ चुनाव होंगे। इसलिए इस बार सीमांचल की सीटों पर मुकाबला रोचक होने वाला है। अभी पूर्णिया जिले में रूपौली-धमदाहा सीट से जदयू के विधायक हैं तो पूर्णिया सदर व बनमनखी सीट से भाजपा के विधायक हैं। कसबा और अमौर में कांग्रेस और बायसी में राजद विधायक हैं। 

कटिहार में कांग्रेस के हैं तीन विधायक 
कटिहार में प्राणपुर व कटिहार सीट पर भाजपा विधायक हैं तो मनिहारी, कोढ़ा, कदवा में कांग्रेस, बरारी में राजद व बलरामपुर में सीपीआईएमएल के विधायक हैं। अररिया में सिकटी, रानीगंज व फारबिसगंज में जदयू-भाजपा तो अररिया, जोकीहाट, नरपतगंज में महागठबंधन के विधायक हैं। किशनगंज सीट से एमआईएम के एक विधायक हैं, जबकि तीन सीट पर कांग्रेस-राजद के विधायक हैं। 

सीमांचल से तीन मंत्री
सीमांचल से बिहार सरकार में तीन मंत्री हैं। इसमें दो पूर्णिया व एक कटिहार से हैं। बनमनखी से भाजपा विधायक कृष्ण कुमार ऋषि, रूपौली से जदयू विधायक बीमा भारती और कटिहार के प्राणपुर से भाजपा विधायक विनोद सिंह मंत्री हैं।

सबसे ज्यादा 20.53 लाख वोटर पूर्णिया में
पूर्णिया जिले के सात विधानसभा क्षेत्रों में 20.53 लाख मतदाता हैं। कटिहार जिले में सात विधानसभा क्षेत्रों में 19.12 लाख मतदाता हैं। अररिया में छह विस क्षेत्रों में 17.88 लाख तो किशनगंज में चार विस क्षेत्रों में 10.87 लाख मतदाता हैं। इस तरह कुल 60 लाख मतदाता इन जिलों में हैं।