फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाला निकला कोरोना पॉजिटिव क्वारंटाइन सेंटर में 

0
21

हाजीपुर 
बिहार के वैशाली जिले के सदर थाना क्षेत्र के दिग्घी स्थित अंबेदकर छात्रावास में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में बुधवार को एक व्यक्ति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। गुरुवार को मृतक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। सिविल सर्जन इंद्र देव रंजन ने यह जानकारी दी। मृतक की कोरोना पॉजिाटिव रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन युवक की ट्रैवेल हिस्ट्री के बारे में पता करने में जुट गया है। 

घटना के संबंध में बताया जाता है कि पटेढी बेलसर के रहने वाले राजेश कुमार प्रवासी श्रमिक हैं। ये दिल्ली से श्रमिक स्पेशल ट्रेन से मंगलवार को ही हाजीपुर आए थे। जिसके बाद प्रशासन ने सदर थाना क्षेत्र के दिग्घी स्थित क्वारंटाइन सेंटर में रखा था। कल ही इसका कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल लिया गया था। जिसकी रिपोर्ट का बुधवार की शाम तक इंतजार किया जा रहा था। बताया जाता है कि मृतक ने कपड़े का फंदा बनाया और कमरे की खिड़की से लटक गया। जब तक बाकी लोगों की नजर उस पर पड़ती तब तक उसकी मौत हो गई थी। इस घटना कि सूचना क्वारंटाइन सेंटर के प्रभारी सहित वरीय अधिकारियों को दी गई। 

क्वारंटाइन सेंटर में आत्महत्या की सूचना के बाद  जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया। सदर थानाध्यक्ष रोहन कुमार दलबल के साथ क्वारंटाइन सेंटर पर पहुंचे और मामले की पड़ताल में जुट गए। घटना के बाद उक्त क्वारंटाइन सेंटर पर सनसनी और डर फैल गया है। बताया जाता है कि आत्महत्या की घटना से पहले मृतक मानसिक तनाव में था। इस संबंध में बताया जाता है कि घटना कि सूचना मृतक के परिजनों को दे दी गई है। 

घटना के बारे में यह भी बताया जा रहा है कि मृतक दिल्ली में भी क्वारंटाइन किया गया था। अपने घर पहुंचने के पहले फिर से क्वारंटाइन किए जाने के कारण युवक भारी मानसिक तनाव में था। बहरहाल बताया जाता है कि शव को पोस्टमार्टम कर सुरक्षित रखा जाएगा। कोरोना सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद इसके शव को परिजनों को दिए  जाने की प्रक्रिया अपनाई जाएगी। बहरहाल इस मामले में अधिकारी कुछ विशेष बताने से परहेज कर रहे हैं।