प्रभारी सचिव ने लिया विकास कार्यो का जायजा, खेतों में उतरकर गिरदावरी का किया सत्यापन

0
1

गरियाबंद। राज्य शासन के प्रमुख सचिव एवं जिले के प्रभारी सचिव डॉ. मनिंदर कौर द्विवेदी गरियाबंद जिले के दौरे पर थे। उन्होंने ग्राम कुम्ही और तर्रा में गिरदावरी का सत्यापन किया, साथ ही महिला समूह के कार्यो का अवलोकन किया। इस दौरान कलेक्टर श्री छतर सिंह डेहरे, ग्रामोद्योग विभाग के संचालक श्री सुधाकर खलको, अपर कलेक्टर श्री जे.आर. चौरसिया सहित राजस्व एवं अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

गरियाबंद जिले की प्रभारी सचिव डॉ. मनिंदर कौर द्विवेदी आज जिले में भ्रमण के दौरान फिंगेश्वर विकासखण्ड के ग्राम कुम्ही में बिहान अंतर्गत महिला समूह के आयजनित गतिविधियों का अवलोकन किया। उन्होंने जय मां संतोषी महिला समूह द्वारा मशरूम उत्पादन की गतिविधियों को बारीकी से देखा। प्रभारी सचिव द्वारा उनके कार्य को सराहा गया। समूह के सदस्यों ने बताया कि दो शिफ्ट में मशरूम का उत्पादन किया जा रहा है। स्पॉन आईजीकेवी से प्राप्त किया जाता है। उन्होंने उत्पादन की क्वालिटी की सराहना करते हुए पैकेजिंग और ब्रांडिंग करने के निर्देश दिये। मौके पर मौजूद ग्रामोद्योग विभाग के संचालक श्री खलको को भी पैकेजिंग के लिए आवश्यक मार्गदर्शन देने कहा गया। इसी तरह ग्राम कुम्ही के ही जय मां तुलसी महिला समूह द्वारा दोना पत्तल निर्माण कार्य का अवलोकन प्रभारी सचिव ने किया। उनके कार्य से प्रभावित होकर उन्होंने खुशी जाहिर की। साथ ही पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए इको फ्रेंडली दोना-पत्तल बनाने महत्वपूर्ण सुझाव दिये। उन्होंने कहा कि स्थानीय जंगल या आसपास मिलने वाले पेड़ों के पत्तों का उपयोग कर दोना-पत्तल बनाये। तत्पश्चात् ग्राम तर्रा में भी सुरज महिला समूह के कार्यो का अवलोकन किया गया। समूह द्वारा निर्मित साबुन, फिनाईल, धूपबत्ती, जैविक कीटनाशक, आचार, पापड़, बड़ी तथा जैविक चावल ब्लैक राईस के उत्पादन और विक्रय के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने यहां भी पैकेजिंग में सुधार करते हुए आकर्षक पैकेट बनाने के निर्देश दिये। बांसशिल्प विभाग को उत्पादन के लिए आकर्षक बांस के कव्हर बनाने के निर्देश दिये गये हैं।

ग्राम कुम्ही में प्रभारी सचिव श्रीमती कौर ने खेतों में उतरकर गिरदावरी का मिलान किया। उन्होंने किसान संदीप चन्द्राकर के खेत में बोये गये फसल और उद्यानिकी फसल की जानकारी ली और रकबा का सत्यापन किया। पटवारी नरेन्द्र साहू ने बताया कि ग्राम कुम्ही का गिरदावरी कार्य पूर्ण हो गया है। उन्होंने कम हुए रकबा की जानकारी दी। इसी तरह ग्राम तर्रा में किसान लक्ष्मण तारक के खेतों का अवलोकन किया। पटवारी ने बताया कि किसान द्वारा 0.79 हेक्टेयर में सिंघाड़ा की खेती किया जा रहा है। प्रभारी सचिव ने मौके पर ही गिरदावरी के संबंध में महत्वपूर्ण निर्देश देते हुए कहा कि सभी तहसीलदार गिरदावरी के दौरान लिये गये फोटोग्राफ्स एकत्र कर ले। गिरदावरी के दौरान सीलिंग एक्ट के तहत निर्धारित भूमि धारकों का पंजीयन के संबंध में तत्काल रिर्पोटिंग के निर्देश दिये गये है। साथ ही अतिक्रमण संबंधित प्रतिवेदन सभी पटवारी से प्राप्त कर केस दर्ज करने और भूमि का विवरण देने के निर्देश दिये गये है। उन्होंने सभी राजस्व निरीक्षक, नायब तहसीलदार, तहसीलदार एवं अनुविभागीय अधिकारियों को निर्धारित प्रतिशत का पालन प्रतिवेदन दो दिवस के भीतर जमा करने के निर्देश दिये है। इस दौरान राजिम के अनुविभागीय अधिकारी श्री जी.डी. वाहिले, तहसीलदार श्री ओ.पी. वर्मा, श्री राकेश साहू, जनपद सीईओ फिंगेश्वर श्री एच.आर. सिदार, उप संचालक कृषि श्री एफ.आर. कश्यप, बिहान के डीपीएम एवं अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।