पैसे नहीं हैं, ऐसे ही काम करूंगी, नहीं कराएंगी कंगना ऑफिस ठीक

0
2

 
नई दिल्ली 

कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच चल रही तनातनी में एक्ट्रेस का मुंबई स्थित ऑफिस BMC के बुलडोजर का शिकार बना. 9 सितम्बर को कंगना रनौत ने मनाली से मुंबई वापसी तो वहीं BMC ने उनके ऑफिस में तोड़फोड़ मचाई. कंगना के ऑफिस की बालकनी समेत कई हिस्सों को तोड़ दिया गया, जिसके बाद गुरूवार को उन्होंने जाकर इसका जायजा भी लिया.

BMC की तोड़फोड़ को बॉम्बे हाई कोर्ट के आर्डर पर रोका गया था. कंगना रनौत के ऑफिस के टूटने पर कई सेलेब्स और सोशल मीडिया यूजर्स दुख और गुस्सा जाता रहे हैं. ऐसे में एक यूजर ने दुख जताते हुए लिखा- बड़ी बड़ी JCB की मशीनों ने कंगना के सुंदर ऑफिस को तो डाला, जिससे कंगना की मेहनत से कमाए पैसों का नुकसान हुआ. ये एक बहुत बुरा दिन था जब एक पूरी सरकार ने एक निडर महिला पर अटैक किया.  इसके जवाब में अब कंगना ने भी ट्वीट किया है. वे लिखती हैं- मैं मेरे ऑफिस को 15 जनवरी को खोला था. इसके थोड़े टाइम बाद कोरोना आ गया. बाकी कई लोगों की तरह मैंने भी तब से काम नहीं किया है. मेरे पास ऑफिस को दोबारा बनवाने के पैसे नहीं हैं. मैं अपने टूटे हुए ऑफिस से ही काम करूंगी और उसको ऐसे ही इस बात की निशानी बनाकर रखूंगी कि एक औरत ने दुनिया से टकराने का साहस दिखाया था.  

कंगना की मां ने दिया बयान
बता दें कि कंगना के महाराष्ट्र सरकार संग टकराव पर सभी की नजर बनी हुई है. ऐसे में आजतक ने एक्ट्रेस की मां आशा रनौत से बात की. आशा रनौत ने बेटी कंगना के बारे में कहा कि मुझे अपनी बेटी पर गर्व है. वो सच के साथ जुड़ी हुई है. भारत की जनता की दुआएं उसके साथ है. कंगना हमेशा सच्चाई के साथ रही है और रहेगी. मैं ग्रह मंत्री का शुक्रिया करती हूं. मोदी जी का धन्यवाद करती हूं. अगर वो मेर बेटी को सिक्योरिटी नहीं दी होती तो पता नहीं मेरी बेटी के साथ क्या होता.