पाकिस्तान का झूठ बेनकाब, भारत बोला- हमने बातचीत का संदेश नहीं दिया

0
4

नई दिल्ली
भारत ने गुरुवार को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के सलाहकार के उस दावे को बकवास करार दिया है कि नई दिल्ली ने इस्लामाबाद को ऐसे संकेत भेजे हैं कि वह दोनों देशों में बातचीत के लिए इच्छुक है। विदेश मंत्रालय ने इसे पाकिस्तानी की मौजूदा सरकार की घरेलू नाकामियों से ध्यान हटाने की कोशिश करार दिया है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, 'जहां तक उस कथित संदेश की बात है तो मुझे यह स्पष्ट करने दीजिए कि हमारी तरफ से इस तरह का कोई भी संदेश नहीं भेजा गया है।' वह राष्ट्रीय सुरक्षा पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के सलाहकार मोइद यूसुफ के दावे को लेकर मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे। मोइद यूसुफ ने भारतीय न्यूज वेबसाइट द वायर को दिए इंटरव्यू में दावा किया था कि भारत ने बातचीत की इच्छा जताते हुए पाकिस्तान को संदेश भेजे हैं। इंटरव्यू में यूसुफ ने कश्मीर समेत तमाम मसलों पर टिप्पणियां कीं।

श्रीवास्तव ने कहा, 'हमने पाकिस्तान के एक सीनियर अधिकारी का एक भारतीय मीडिया आउटलेट को दिए इंटरव्यू से जुड़े रिपोर्ट्स को देखा है। उन्होंने भारत के आंतरिक मसलों पर टिप्पणियां की हैं।' उन्होंने आगे कहा, 'हमेशा की तरह यह पाकिस्तान की सरकार की घरेलू नाकामियों से ध्यान भटकाने और रोजमर्रा के आधार पर भारत को हेडलाइंस में घसीटकर वहां की जनता को गुमराह करने की कोशिश है।'

श्रीवास्तव ने पाकिस्तानी अधिकारी को नसीहत दी कि वह सिर्फ अपनी सरकार को सलाह देने तक सीमित रहें और भारत की घरेलू नीतियों पर टिप्पणियां न करें। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, 'उन्होंने जो टिप्पणियां की हैं वो जमीनी हकीकत से उलट, गुमराह करने वाली और कपोल कल्पित है।' एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भारत म्यांमार की नेवी को एक किलो क्लास सबमरीन देगा।