पत्रकार को अपराधियों ने दिनदहाड़े गोलियों से भून दिया

0
2

गोपालगंज
बिहार में अपराधियों ने फिर से तांडव मचाया है। गोपालगंज जिले में एक पत्रकार को अपराधियों ने दिनदहाड़े गोलियों से भून दिया है। ये सनसनीखेज वारदात दिनदहाड़े अंजाम दी गई है। अपराधी बुलेट मोटरसाइकिल से आए थे और पत्रकार को निशाना बनाकर आराम से फरार हो गए।

पत्रकार राजन पांडेय पर हुई फायरिंग
वारदात गोपालगंज जिले के माझागढ़ थाना क्षेत्र के पुरानी बाजार की है। बताया जा रहा है कि पत्रकार राजन पांडेय अपने घर से सुबह टहलने के लिए जा रहे थे। तभी बुलेट सवार तीन अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया। मंगलवार की सुबह राजन पांडेय जैसे ही मांझागढ़ के पुराने बाजार में पहुंचे तभी उन्हें सरेआम गोली मार दी गयी। गोली लगने के बाद राजन वहीं पर गिर गए। राजन को स्थानीय लोगों की मदद से गोपालगंज सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया। यहां चिकित्सको ने प्राथमिक इलाज करने के बाद राजन को गंभीर हालत में गोरखपुर के लिए रेफर कर दिया है।

पत्रकार ने अपराधियों के नाम बताए
इस वारदात के बाद जब पत्रकार राजन को गोरखपुर ले जाया जा रहा था तो रास्ते में उन्होंने हमलावरों के नाम बताए हैं। राजन के मुताबिक वो बच्चों को पढ़ाते भी हैं और इसी सिलसिले में मंगलवार की सुबह वो कोचिंग क्लास देने जा रहे थे। तभी रास्ते में राजेंद्र यादव (अदमापुर निवासी) , राजकुमार सिंह (कोइनी निवासी) और नन्हे सिंह ने इनका पीछा किया और इन्हें गोली माप दी।

अपराधियों की पहचान हुई- पुलिस
जिले के एसपी मनोज कुमार तिवारी ने बताया कि पत्रकार को गोली मारने वाले अपराधियों की पहचान कर ली गई है। पुलिस टीम को अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए लगा दिया गया है। उन्होंने कहा कि संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद मामले की असल वजह साफ हो पाएगी।पत्रकार राजन पांडेय समाजिक कार्यों में भी बढ़ कर भाग लेते रहे हैं। कोरोना काल और गोपालगंज में आई बाढ़ के दौरान भी राजन पांडेय ने जरूरतमंदों के बीच राहत सामग्री पहुंचाई थी। इस वारदात के बाद पूरे इलाके में खौफ का माहौल बन गया है।