नीतीश की दो टूक- राफेल मुद्दा नहीं, महागठबंधन का भविष्य भी अधर में

    0
    17

    पटना            
    राफेल विमान सौदे में कथित गड़बड़ी के मुद्दे पर कांग्रेस समेत समूचे विपक्ष ने केंद्र की मोदी सरकार की नाक में दम किया हुआ है, लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए ये कोई मुद्दा नहीं है. नीतीश कुमार का कहना है कि राफेल कोई मुद्दा नहीं है, अब ये बात सुप्रीम कोर्ट ने भी क्लियर कर दी है.

    राफेल के अलावा नीतीश कुमार ने महागठबंधन को लेकर भी बड़ा बयान दिया. बिहार के मुख्यमंत्री बोले कि महागठबंधन का कोई भविष्य नहीं है, बिहार में लोग सिर्फ विकास के मुद्दे पर वोट देंगे.

    बता दें कि नीतीश कुमार का ये बयान उस दिन आया है जब बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने महागठबंधन के नेताओं की बड़ी बैठक बुलाई है. इस बैठक में तेजस्वी यादव के अलावा हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के जीतन राम मांझी, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के उपेंद्र कुशवाहा, शरद यादव, कांग्रेस नेता मदन मोहन झा शामिल होंगे.

    इस बैठक में महागठबंधन के नेता सीटों पर भी फैसला कर सकते हैं. गौरतलब है कि एक तरफ बिहार में महागठबंधन की सुगबुगाहट तेज हो रही है तो वहीं एनडीए भी अपनी रणनीति पर आगे बढ़ चुका है.

    बीते दिनों एनडीए ने अपनी सीटों का बंटवारा किया. जिसके तहत बिहार की चालीस लोकसभा सीटों में 17-17 सीटों पर बीजेपी-जेडीयू और बाकी की 6 सीटों पर राम विलास पासवान की लोजपा चुनाव लड़ेगी.

    आपको बता दें कि राफेल विमान का मुद्दा आज भी लोकसभा में छाया रहा, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने राहुल गांधी के सवालों का जवाब दिया. तो वहीं राहुल गांधी ने ट्विटर के जरिए HAL के कर्मचारियों की सैलरी का मुद्दा उठा दिया.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here