जेईई एडवांस्ड 2020: कोविड-19 के कारण एहितियात के बीच 96 फीसदी छात्रों ने दी परीक्षा

0
2

नई दिल्ली 
कोविड-19 महामारी के मद्देनजर विशेष एहतियात के बीच जेईई-एडवांस्ड के लिए पंजीकरण कराने वाले कम से कम 96 प्रतिशत छात्र रविवार को आयोजित परीक्षा में बैठे। परीक्षा का आयोजन करने वाले भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली ने इस बारे में जानकारी दी है। जेईई-मेन में जरूरी अंक प्राप्त करने के बाद संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई)-एडवांस्ड के लिए कुल 1.6 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था। आईआईटी दिल्ली के एक अधिकारी ने बताया, ''कुल पंजीकृत उम्मीदवारों में 96 प्रतिशत छात्रों ने परीक्षा में भागीदारी की। परीक्षा केंद्रों की संख्या 600 से बढ़ाकर 1,000 कर दी गयी थी और परीक्षा के आयोजन वाले शहरों की संख्या भी 164 से बढ़ाकर 222 कर दी गयी। महामारी के मद्देनजर कड़े एहतियात और सामाजिक दूरी के उपायों के बीच इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई)-मेन का आयोजन एक से छह सितंबर तक हुआ था। देश भर में परीक्षा केंद्रों पर छात्रों को एक-एक कर आने-जाने दिया गया, द्वार पर सैनेटाइजर का इस्तेमाल हुआ और मास्क भी बांटे गए। परीक्षा केंद्र के भीतर जाने के लिए कतार में लगे छात्रों के बीच उचित दूरी बनाए रखी गयी।

JEE Advanced 2020: पेपर-1 पर बोले छात्र, मैथ्स रही कठिन और कैमिस्ट्री आसान
जेईई-मेन परीक्षा के लिए 8.58 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था, इसमें से 2.5 लाख छात्र जेईई-एडवांस्ड में बैठने के लिए योग्य करार दिए गए । जेईई-एडवांस्ड में सफल होने के बाद छात्रों को आईआईटी के स्नातक कार्यक्रमों में दाखिला मिलेगा। जेईई-एडवांस्ड के परिणाम की घोषणा पांच अक्टूबर को होगी। देश में 23 आईआईटी हैं।