छह करोड की रिकवरी करने नीलाम होगा 15 करोड़ से तैयार साक्षी मेडिकल कालेज

0
3

गुना
गुना कलेक्टर कुमार पुरूषोत्तम छह करोड़ रुपए की रिकवरी करने के लिए साक्षी मेडिकल कालेज की नीलामी कराएंगे। क्योंकि कालेज प्रबंधन ने सत्र 2016-17 में प्रवेशित करीब दो दर्जन विद्यार्थियों के प्रवेश में एनआरआई के नाम पर काफी फर्जीवाड़ा किया था। प्रवेश एंव फीस विनियामक समिति ने साक्षी मेडिकल कालेज की निलामी करने संबंधी पत्र कलेक्टर पुरूषोत्तम को भेज दिए हैं। नीलामी की रकम फीस कमेटी के एकाउंट में जमा होंगी। जहां से विद्यार्थियों को फीस वापस की जाएगी।  

साक्षी मेडिकल कालेज गुना ने एनआरआई कोटे के नाम पर करीब दो दर्जन विद्यार्थियों के प्रवेश में फर्जीवाड़ा किया है। मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया (एमसीआई) ने उनकी मान्यता निरस्तर कर दी है। इसलिए विद्यार्थियों ने फीस वापस लेने फीस कमेटी से फीस वापस करने की गुहार लगाई थी। इसके चलते कमेटी ने गुना कलेक्टर पुरूषोत्तम को पत्र लिखकर साक्षी कालेज को संपत्ती की नीलाम कर वसूली करने के लिए पत्र भेजा है। करीब 15 करोड़ की लागत से हुए तैयार हुए साक्षी कालेज अब छह करोड़ की फीस वापस करने के लिए नीलाम किया जाएगा। फीस कमेटी का पत्र मिलने के बाद गुना कलेक्टर जल्द ही कालेज की संपत्ति को नीलाम करने की कार्रवाई करेंगे।

तीन साल हुए बर्बाद
आगरा के एक विद्यार्थी ने बताया कि उनसे पूरी फीस ले ली गई है, लेकिन उनकी कक्षाएं शुरू तक नहीं की गई। दूसरी तरफ उनकी मान्यता भी समाप्त हो चुकी है। इसलिए हमें फीस वापस लेने के लिए कमेटी में शिकायत दर्ज कराई है। कालेज ने उनके प्रवेश के साथ फर्जीवाड़ा किया है। इस फर्जीवाडेÞ में उनके तीन साल भी बर्बाद हो गए हैं।  

रसीद दिखाने पर मिलेगी राशि
विद्यार्थियों ने कालेज में कितनी फीस जमा की है। इसकी रसीद दिखाने के बाद ही फीस कमेटी उनकी राशि वापस करेगा। विद्यार्थियों ने फर्जीवाड़े के लिए जो राशि का भुगतान किया है। वह राशि उन्हें वापस नहीं कराई जाएगी। क्योंकि इस संबंध में विद्यार्थियों के पास कोई साक्ष्य मौजूद नहीं हैं।

 एक साल में घटे तीन करोड़
विद्यार्थियों की तीन साल की फीस वापस करने पर कालेज पर करीब नौ करोड की रिकवरी निकल रही थी, लेकिन विद्यार्थी एक साल पढ़ाई करने के बाद अपनी परीक्षाएं तक दे चुके थे। इसलिए फीस कमेटी ने उनकी एक साल की फीस को छोड़ दिया है। जबकि शेष दो साल की फीस में करीब छह करोड रुपए आ रहे थे। उसकी रिकवरी करने गुना कलेक्टर को कहा गया है।

विद्यार्थियों की फीस वापसी कराने के लिए साक्षी मेडिकल कालेज की कुर्की करने संबंधी पत्र गुना कलेक्टर को दिया गया है। कुर्की से मिली राशि से विद्यार्थियों को रसीद के आधार पर शुल्क वापस होगा।
रविंद्र रामचंद्र कान्हेरे, अध्यक्ष, फीस कमेटी