घर में सीलन और जाले बन सकते हैं बड़ी परेशानी, इन बातों का रखें ध्यान

0
7

वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra) के अनुसार घर में रखी हुई हर चीज का व्यक्ति के दैनिक जीवन पर प्रभाव पड़ता है. यदि घर की चीजें वास्तु के अनुसार संतुलित होती हैं तो व्यक्ति सकारात्मक ऊर्जा का अनुभव करते हैं. अगर घर में आर्थिक समस्या, कलह या क्लेश बहुत ज़्यादा रहता है तो इसका समाधान भी वास्तु शास्त्र में मिलता है.

वास्तु के मुताबिक जिस घर में अधिक सीलन और धूल-मिट्टी हो या दीवारों के कोनों में जाले लगे हों तो उस घर में हमेशा नकारात्मकता का संचार होता रहता है. इससे घर के लोग मुकदमे में फंस जाते हैं. इसके साथ ही घर की आर्थिक स्थिति भी कमज़ोर होने लगती है. इसलिए इन बातों का विशेष ध्यान रखें कि घर में धूल-मिट्टी या जाले ना हों.

आइए जानते हैं घर की आर्थिक समृद्धि और खुशहाली के लिए और किन बातों का ध्यान रखना चाहिए…..

  • जिन लोगों के घर में जल की निकासी दक्षिण या पश्चिम दिशा में होती है, उन्हें आर्थिक समस्याओं के साथ अन्य कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. उत्तर दिशा एवं पूर्व दिशा में जल की निकासी आर्थिक दृष्टि से शुभ मानी जाती है.
  • घर के जिस कोने में सीलन आ रही हो, वहां सूर्य की पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था करनी चाहिए. साथ ही घर में पीले रंग का बल्ब जलाना उचित है.
  • घर में हमेशा तुलसी का पौधा लगाएं. इस पौधे में सुबह-शाम दीपक जलाएं और पूजा करें. ऐसा करने से घर में सुख-समृद्धि बढ़ती है.
  • घर में टूटे-फूटे बर्तनों को जमा करने से घर में नकारात्मक ऊर्जा फैलती है.
  • घर में अगर नल से पानी टपकता है तो ऐसी स्थिति में धन का ख़र्च भी बढ़ जाता है.
  • घर के मुख्य द्वार पर भगवान गणेश की मूर्ति लगाने से सकारात्मकता बढ़ती है.