कोरोना संक्रमण को रोकने में मोहल्ला क्लीनिकों का भी सहयोग लें : मंत्री डॉ. मिश्रा

0
8

दतिया
 गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कोरोना संक्रमण को रोकने एवं संक्रमित मरीजों के लिए उपलब्ध करवाई जा रही चिकित्सा सुविधाओं की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया है कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मोहल्ला क्लीनिकों का भी सहयोग लें। मोहल्ला क्लीनिकों पर कोरोना की जाँच की व्यवस्था भी हो, जिससे जिला चिकित्सालय पर अनावश्यक दबाव न रहे। उन्होंने निजी चिकित्सकों की बैठक कर इस संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करने को कहा है। मंत्री डॉ. मिश्रा शनिवार को मेडिकल कॉलेज दतिया में जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति  एवं उपलब्ध व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे।

मंत्री डॉ. मिश्रा ने जिला चिकित्सालय के कोविड वार्ड एवं कोविड केयर सेन्टर में भर्ती मरीजों एवं स्वस्थ होकर जाने वाले मरीजों की जानकारी ली।  उन्होंने चिकित्सकों को निर्देश दिए कि मरीजों के उपचार में किसी प्रकार की कोताही न हो। दवाइयों, ऑक्सीजन एवं वेंटिलेटर के समुचित प्रबंध सुनिश्चित करें। उन्होंने जिला चिकित्सालय में दवाईयों, रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं गैस सिलेण्ड़रों की उपलब्धता के साथ उपलब्ध वेंटिलेटरों की समीक्षा की।  डॉ. मिश्रा ने दूरभाष पर संयुक्त संचालक स्वास्थ्य को जिला चिकित्सालय में आवश्यकतानुसार  वेंटिलेटर  की व्यवस्थाएँ तत्काल  सुनिश्चित करवाने को  निर्देशित किया। कलेक्टर को वेंटिलेटर की व्यवस्था पर सतत निगरानी रखने के निर्देश दिए।

गैस वेल्डिंग वालों से चर्चा कर आवश्यक सहयोग ले
 डॉ. मिश्रा ने कहा कि जिले में गैस वेल्डिंग करने वालों से चर्चा कर उनसे आग्रह करें कि इस संकट की घड़ी में उपलब्ध ऑक्सीजन सिलेण्ड़र मरीजों के उपचार के लिए जिला प्रशासन को उपलब्ध कराने में सहयोग दें।

जिले में 200 कोविड बेड का है प्रबंध
दतिया कलेक्टर ने जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं लोगों को कोरोना गाइड-लाइन का पालन कराये जाने के लिये संचालित गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में लगभग 200 कोविड बेड की व्यवस्था है, जिसमें 140 मेडीकल कॉलेज में जबकि शेष बेडों की व्यवस्था जिला चिकित्सालय में की गई है। वर्तमान में 99 कोरोना पॉजिटिव मरीज भर्ती है। उन्होंने बताया कि मेडीकल कॉलेज में बनाये गये वार्ड में ऑक्सीजन की सप्लाई पाइप लाइन के और जिला चिकित्सालय में सिलेण्ड़र के माध्यम से की जा रही है। जिले में ऑक्सीजन की पर्याप्त और 35 वेटीलेटर की व्यवस्था है।

संक्रमण के प्रसार को रोकने घर-घर कराया जा रहा है सर्वे
मंत्री डॉ. मिश्रा ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में घर-घर जाकर सर्वे करने की व्यवस्था को और पुख्ता करने को कहा है।