कोरोना के इलाज के नाम पर मनमानी वसूली करने वाला प्राइवेट हॉस्पिटल सील

0
1

पटना 
राजधानी पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र के पूर्वी इंदिरानगर स्स्थित जेडीएम हॉस्पिटल को गुरुवार की देर रात पुलिस प्रशासन की ओर से सील करा दिया गया। यह कार्रवाई एसडीओ सदर तनय सुल्तानिया की मौजूदगी में की गई। अस्पताल को सील करने से पहलेवहां वेंटीलेटर पर रखे गये दो मरीजों को अन्यत्र अस्पताल में शिफ्ट कराया गया जबकि एक मरीज को अस्पताल प्रबंधन की ओर से दिन में ही डिस्चार्ज कर दिया गया था। 

एसडीओ सदर के साथ एक अन्य मजिस्ट्रेट गुरुवार की देर रात जेडीएम अस्पताल पहुंचे थे। कंकड़बाग थाने की पुलिस भी बुलाई गई थी। पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में अस्पताल में भर्ती मरीजों को शिफ्ट कराने की कवायद शुरू की गई। इससे अस्पताल प्रबंधन में हड़कंप मच गया। मरीजों को शिफ्ट कराने के बाद अस्पताल को सील कर दिया। इसकी पुष्टि सदर एसडीओ ने की है। 

नहीं हो सकी है गिरफ्तारी
मरीज से मनमानी वसूली करने के आरोप में डीएम के आदेश पर जिला कार्यक्रम समन्वय मनोज कुमार भारती की ओर से जेडीएम अस्पताल के मैनेजिंग डायरेक्टर, सहायक प्रबंधक, डॉक्टर, लैब टेक्नीशियन समेत 5 नामजद आरोपितों के खिलाफ कंकड़बाग थाने में 18 अगस्त की रात में ही एफआईआर दर्ज करा दी गई थी।  अस्पताल को सील करने का अल्टीमेटम भी दिया गया था। एफआईआर दर्ज करने के बाद बुधवार को कंकड़बाग थाना प्रभारी अजय कुमार ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी करने का दावा किया था लेकिन आरोपित अपने ठिकानों से गायब मिले। कंकड़बाग थाना प्रभारी ने बताया कि प्रशासन की मौजूदगी में अभी अस्पताल से मरीजों को अन्यत्र शिफ्ट कराने का काम किया जा रहा है। अस्पताल सील होने के बाद आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी तेज कर दी जाएगी।