कैसी होगी ग्रेटर नोएडा में बनने वाली फिल्म सिटी, 1000 एकड़ में होगा विस्तार

0
6

 
नई दिल्ली 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा नोएडा में फिल्म सिटी बनाए जाने की घोषणा के चंद दिनों के भीतर उन्होंने इसे लेकर अपना प्लान भी साझा कर दिया है. उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री के लोगों को इसके लिए खुला ऑफर दिया है. उन्होंने बताया कि यमुना एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा गौतम बुद्ध नगर में 1000 एकड़ की जमीन चिह्नित कर ली गई है जिस पर इनफोटेनमेंट जोन तैयार किया जाएगा.

उत्तर प्रदेश फिल्म पॉलिसी 2018 के मुताबिक सरकार फिल्म सिटी की स्थापना में जमीन उपलब्ध कराकर मदद करेगी. साथ ही सही इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा करने में मदद करेगी. पॉलिसी फिल्म सिटी में इसका खुद का पुलिस स्टेशन और एक अलग विंग बनाया जाएगा जो फिल्म सिटी की सुरक्षा इनश्योर करेगा. इसका खुद का फायर स्टेशन भी होगा.

फिल्म सिटी 2023 तक तैयार हो जाएगी. लोकेशन फिल्म इंडस्ट्री के द्वारा फाइनल कर दी गई है.एक्सप्रेसवे, सेक्टर 29 में ये करीब 1000 एकड़ की जमीन है. इंडस्ट्रियल एरिया जिसमें स्टूडियो और सेट शामिल होंगे करीब 780 एकड़ में फैला होगा और बाकी का 220 एकड़ कॉमर्शियल पर्पस से इस्तेमाल किया जाएगा.

पहले जोन में एंट्रेंस ऑफिस, पावर स्टेशन, तीन पांच सितारा होटल, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स होगा. वही दूसरे जोन में फूड कोर्ट, आउटडोर राइड्स, इनडोर राइड्स, आउटडोर लोकेशन वगैरह होंगे. तीसरे जोन में एक विलेज और बंग्लो होगा. जबकि चौथे जोन में क्लब हाउस, एयरपोर्ट ऑफिस, वेयर हाउस, फ्यूल हाउस वगैरह होंगे.

स्टूडियोज में स्टेट ऑफ आर्ट फैसिलिटी, ग्रीन स्क्रीन हॉल्स, वीडियो एडिटिंग रूम, साउंड मिक्सिंग रूम, रिकॉर्डिंग स्टूडियो रोम, ब्लू स्क्रीन हॉल और एक वर्क स्टेशन होगा.  मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से एक बयान जारी किया गया है जिसके अनुसार, "प्रस्तावित जमीन नई दिल्ली से महज एक घंटे की दूरी पर है और जेवर में प्रस्तावित किए गए इंटरनेशनल हवाई अड्डे से काफी ज्यादा नजदीक है. ये एयरपोर्ट एशिया का सबसे बड़ा ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट होगा."

बयान के मुताबिक ये फिल्म सिटी आगरा, मथुरा और नोएडा में प्रस्तावित लॉजिस्टिक हब से काफी करीब पड़ेगा. यहां के लिए सभी ट्रांसपोर्ट माथ्यम उपलब्ध कराए जाएंगे. YEIDA ने बताया कि उसने जमीन की पहचान करने के बाद रविवार को राज्य सरकार को प्रपोजल भेज दिया था जिसमें एक्सप्रेसवे के पास सेक्टर 21 में जमीन का जिक्र है.

राज्य सरकार ने आज इस जमीन को अप्रूव कर दिया है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आत्मविश्वास जताया है कि ये फिल्म सिटी उनकी उम्मीदों पर खरी उतरेगी. उन्होंने कहा कि अब तक राज्य की फिल्म सिटी की उम्मीद अब तक पूरी नहीं हो पा रही थी लेकिन प्रदेश को जल्द मिलने जा रही ये फिल्म सिटी उनकी उम्मीदें जरूर पूरी करेगी.

उन्होंने मीटिंग में कहा, "भारतीय सिनेमा को अब एक नया मंच मिल रहा है. ये आज के समय की जरूरत है." बता दें कि हाल ही में मुख्यमंत्री कार्यालय में एक बैठक आमंत्रित की गई थी जिसमें निर्माता-निर्देशक सतीश कौशिक, सिंगर कैलाश खेर, अनूप जलोटा और लेखक मनोज मुंतशिर जैसे दिग्गज शामिल हुए.