काम पर लौटे बिजली कर्मचारी, यूपी के ज्यादातर शहरों में लौटी ‘रौनक’, कई जिलों में अब भी अंधेरा

0
2

वाराणसी
उत्तर प्रदेश के बिजली कर्मचारियों ने काम पर लौटना शुरू कर दिया है। बिजली कंपनियों के निजीकरण के खिलाफ सोमवार से कार्य बहिष्कार कर रहे कर्मचारियों ने मंगलवार शाम को ही हड़ताल वापस लेने का फैसला लिया था। सरकार ने निजीकरण को 3 महीने के लिए स्थगित कर दिया है और इस दौरान बिजली कंपनियों के कामकाज की समीक्षा की जाएगी। बीते 48 घंटों के दौरान उत्तर प्रदेश के कई जिले बिजली कटौती से बुरी तरह प्रभावित हुए। गोरखपुर, देवरिया, महाराजगंज, बस्ती, बलिया समेत कई शहरों में बिजली कटौती से लोग परेशान हुए। हालांकि ताजा जानकारी के मुताबिक, इन शहरों के ज्यादातर इलाकों में बिजली सप्लाई फिर से शुरू हो गई है।

प्रयागराज-वाराणसी के ज्यादातर इलाकों में अंधेरा
वहीं प्रयागराज, वाराणसी के ज्यादातर इलाके अब भी अंधेरे में डूबे हैं। लोग लगातार अधिकारियों और बिजलीघरों का नंबर डायल कर रहे हैं, मगर कोई फोन नहीं उठा रहा है। हालांकि उम्मीद की जा रही है कि देर रात तक यहां भी ज्यादातर इलाकों में बिजली सप्लाई बहाल हो जाएगी।

देवरिया में ग्रामीणों ने जाम किया नैशनल हाइवे
उधर देवरिया के गौरी बाजार क्षेत्र में सोमवार शाम से अभी तक बिजली नहीं आने की वजह से लोग खासा नाराज हैं। मंगलवार रात ग्रामीणों ने रामपुर चौराहे पर NH-29 को जाम कर दिया और विरोध प्रदर्शन करने लगे। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत कराया है।