कांग्रेस के शासन में 2004-14 तक रेल परियजोनाओं पर काम ही नहीं हुआ- नीतीश कुमार

0
2

 पटना 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोसी रेल महासेतु को आज राष्ट्र को समर्पित कर दिया। इस मौके पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पीएम का धन्वयाद दिया। साथ ही कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार पर निशाना भी साधा। सीएम नीतीश ने कहा कि कांग्रेस के शासन में 2004 से 2014 तक 10 साल रेल की परियोजनाओं पर कोई काम ही नहीं हुआ। पीएम मोदी ने ठप पड़े कामों को तेज किया और इसका नतीजा है कि बिहार की कई परियजोनाएं पूरी कर ली गई हैं।

मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि हाजीपुर-वैशाली रेल लाइन को सुगौली तक शीघ्र पूरा कर लिया जाए। मुख्यमंत्री ने बिहार की रेल परियोजनाओं की जो भी काम कुछ रह गए हैं, उन्हें भी जल्द पूरा कराने का आग्रह किया। पीएम द्वारा कोसी रेल महासेतु के उद्घाटन समारोह में सीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से अपनी बात रखी। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि हम सभी देश के वासी हैं तो फिर दूसरे राज्यों में जाने वाले श्रमिकों को प्रवासी क्यों कहा जाता है?

नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में बिहार को कई नई रेल परियोजनाओं के सौगात पर  प्रधानमंत्री के प्रति आभार जताते हुए मुंगेर के जमालपुर स्थित इंडियन रेलवे इंस्टिट्यूट ऑफ मैकेनिकल एंड इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग को फिर से शुरू कराने का आग्रह किया। कार्यक्रम को लेकर सुपौल स्टेशन पर लाइव प्रसारण की व्यवस्था की गई थी।

वाजपेयी और नीतीश का ड्रीम प्रोजेक्ट था- पीएम मोदी

वहीं शुक्रवार को ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोसी रेल महासेतु कोसी और मिथिलांचल की संस्कृति को जोड़ने वाला महासेतु है। पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की यह ड्रीम प्रोजेक्ट था। 2003 में पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी ने इसका शिलान्यास किया था। 

पीएम मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों की उपेक्षा के कारण रेलखंड पर ट्रेन चलाने का मामला धीमा पड़ गया था। एनडीए के पहले कार्यकाल में इस परियोजना पर काम शुरू हुआ और दूसरे कार्यकाल में आज इस पर ट्रेन सेवा शुरू हो गई है। इससे न सिर्फ लोगों को आवागमन की सुविधा मिलेगी बल्कि कोसी क्षेत्र में व्यापार, उद्योग और रोजगार को बढ़ावा मिलेगा।