करंट की चपेट में आने से 16 लोग झुलसे, 3 की हालत गंभीर, मचा हड़कंप

0
2

बलरामपुर
उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले के हर्रैया सतघरवा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले उदईपुर मझगवां में एक दर्दनाक घटना हुई है। जरनेटर, लाइट ट्रांसफॉर्मर और प्रोजेक्टर के बीच शार्ट सर्किट हुआ। इस दौरान बच्चे वहीं पर बैठकर फिल्म देख रहे थे। तभी 13 बच्चों सहित 16 लोगो को करंट लग गया। आनन-फानन में उन्हें सीएचसी शिवपुरा पहुंचाया गया। जहां से तीन बच्चों को जिला मेमोरियल चिकित्सालय भेज दिया गया है। उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। बताया जाता है कि हर्रैया सतघरवा थाना क्षेत्र के उदईपुर मझगवां में गुरुवार सुबह करीब 4:00 बजे एक मांगलिक कार्यक्रम में प्रोजेक्टर पर सिनेमा देख रहे थे। तभी 13 बच्चों सहित 16 लोग करंट लगने से झुलस गए। सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवपुरा में भर्ती कराया गया। जहां 3 लोगों की हालत नाजुक होने के कारण जिला अस्पताल बलरामपुर में रिफर कर दिया गया।

…और उतरा करंट, फिर हादसा
बुधवार को मझगवां गांव में अर्जुन प्रसाद वर्मा के लड़के का बरही संस्कार था। इसी कार्यक्रम में टेंट और लाइट लगाई गई थी। देर रात बिजली आने पर पर्दा वीडियो मालिक जोगी गुप्ता की ओर से पड़ोस के पृथ्वीराज गुप्ता के घर से कटिया कनेक्शन के जरिए जोड़ दिया गया। वायरिंग टेंट के पोल से जुड़ी हुई थी। वायरिंग दुरुस्त न होने की वजह से अचानक बिजली करंट टेंट के पोल में आ गया। उसी से सटे नीचे बैठे 16 लोग करंट लगने के कारण घायल हो गए, जिन्हें सीएचसी शिवपुरा में भर्ती कराया गया है।

इन लोगों को किया गया है रिफर
अरविंद (14 वर्ष), घनश्याम (15 वर्ष), तान्या (11 वर्ष) श्याम (8 वर्ष), रोहित (17 वर्ष), बृजेश (16 वर्ष), विद्या प्रकाश (30 वर्ष), कुलदीप (12 वर्ष), राहुल (16 वर्ष), नजर (36 वर्ष), वेद प्रकाश (12 वर्ष) का इलाज सीएचसी शिवपुरा में चल रहा है। सूरज (15 वर्ष) सुखराम (12 वर्ष) तथा अमरजीत (15 वर्ष) की हालत गंभीर होने के कारण जिला अस्पताल बलरामपुर में रिफर किया गया है।

कराई जा रही है मामले की जांच
बलरामपुर सदर एसडीएम डॉ. नागेंद्रनाथ यादव ने बताया कि हर्रैया सतघरवा के ग़ांव में एक घटना हुई है। इसमें 16 लोग करंट से झुलस गए हैं। यहां जिला अस्पताल में 3 लोगों का इलाज हो रहा है। अन्य लोगों का इलाज सीएचसी शिवपुरा में चल रहा है। घटना की जांच कराई जा रही है।