एलजेपी NDAमें चाहती है बिहार चुनाव में 36सीटें

0
1

पटना
लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) ने बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन से ज्यादा सीटें पाने का नया फॉर्म्युला बताया है। इसके तहत एलजेपी ने 36 सीटों की डिमांड की है। फॉर्म्युला में बताया गया है कि एलजेपी बिहार विधानसभा की उन 123 सीटों पर दावेदारी पेश नहीं करेगी जिसपर बीजेपी और जेडीयू के विधायक हैं। बची हुई 120 सीटों में से एलजेपी ने अपनी पसंद की 20 सीटें मांगी है। इसके बाद बाकी की बची हुई 100 सीटों में से 16 सीटें पार्टी के लिए मांगी है।

एलजेपी के पूर्व सांसद और भूमिहार समाज से आने वाले बाहुबली सूरजभान सिंह ने कहा कि एलजेपी अपनी पसंद की 20 और पार्टी के लिए 16 सीटें मांग रही है। इस लिहाज से गठबंधन में एलजेपी को 36 सीटें मिलनी चाहिए। सूरजभान सिंह ने कहा कि अगर एनडीए गठबंधन मुस्तैदी से चुनाव में उतरेगा तो 200 से ज्यादा सीटें जीतेंगे। लोकसभा चुनाव में एलजेपी ने छह सीटें जीती थी। इस लिहाज से हमारा 36 सीट बनता है।

इससे पहले एलजेपी कहती रही है कि उनका गठबंधन बीजेपी के साथ है। साथ ही पार्टी ने कार्यकर्ताओं से 143 सीटों पर तैयारी करने की सलाह दी है।

आरजेडी ने चिराग को गठबंधन में आने का दिया ऑफर
वहीं आरजेडी विधायक शक्ति सिंह यादव ने कहा कि बिहार की जनता ने परिवर्तन का मूड बना लिया है। परिवर्तन की बयान जिस रफ्तार से चल रही है उससे एलजेपी भलीभांति अवगत दिख रही है। वहीं आरजेडी विधायक विजय प्रकाश ने कहा कि एनडीए में सबकुछ ठीक नहीं है। सीएम नीतीश अपने सहयोगियों में ही एक दूसरे को काटने की कोशिश कर रहे हैं। जीतन राम मांझी को साथ लाने के बाद उन्हें लग रहा है कि अगर वे रामविलास पासवान को कोई महत्व नहीं भी देंगे तो उनका काम चल जाएगा। ऐसे में चिराग पासवान को समझना चाहिए कि यह विवाद बीजेपी ही करा रही है। वहीं बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने कहा कि एलजेपी एनडीए में ही है। जल्द ही सारी बातें सुलझा ली जाएंगी। बातचीत से रास्ता निकाला जाएगा।

ये हो सकता है एनडीए में सीट शेयरिंग का फॉर्म्युला

सूत्रों का कहना है कि एक सप्ताह के भीतर एनडीए में सीट शेयरिंग के फॉर्म्युले पर बात बन जाएगी। सीट शेयरिंग फॉर्म्युले के तहत माना जा रहा है कि जेडीयू को 243 में 122 सीटें दी जाएगी और बीजेपी को 121 सीटें मिलेंगी। इसके बाद जेडीयू अपने कोटे से जीतन राम मांझी और बीजेपी राम विलास पासवान की पार्टी को टिकट देगी।