आंध्र प्रदेश से लूटे गए मोबाइल ,डेढ़ करोड़ रुपये के इंदौर बरामद

0
2

इंदौर
आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले और तमिलनाडु के श्रीपैरंबदूर जिले से लूटे करीब पांच करोड़ रुपये के मोबाइल मामले में आंध्र प्रदेश और बीएनपी देवास पुलिस ने इमली बाजार (कमाठीपुरा) में छापा मारा। पुलिस ने यहां से डेढ़ करोड़ रुपये के मोबाइल फोन बरामद किए। यह मकान एमजी रोड थाना में पदस्थ महिला कांस्टेबल का है। आरोपित सईद कपड़ा कारोबारी बनकर किराए से रहता था। पुलिस टीएसटीएन डेटा, टावर लोकेशन और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर यहां पहुंची थी।

एएसपी (पश्चिम) प्रशांत चौबे के मुताबिक पिछले दिनों गुंटूर जिला स्थित चिलकुलुरिपेटा के पास नेशनल हाईवे पर अपराधियों ने फिल्मी अंदाज में कंटेनर को कटर से काटकर मोबाइल और नोटपेड लूट लिए थे। इसी तरह एक वारदात तमिलनाडु के श्रीपैरंबदूर में अगस्त में हुई थी, जिसमें करीब 4 करोड़ के मोबाइल लूटे गए थे। आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु पुलिस ने जांच की और पीएसटेन डेटा से नेशनल हाईवे पर एक्टिव मोबाइल नंबर ढूंढे। पता चला कि देवास जिले के धानीघाटी के कंजर हैं और उन्होंने फर्जी नाम-पते से सिम ली थी।

जांच टीम ने उस लोडिंग वाहन को भी तलाश लिया, जिससे मोबाइल इंदौर भेजे गए थे। पता चला कि मोबाइल इमली बाजार में रहने वाले सईद खान ने खरीदे हैं। वह कपड़ा कारोबारी जिनेंद्र जैन के मकान में किराए से रहता था। जैन की बहू स्वीटी (सविता) एमजी रोड थाने में कांस्टेबल है। स्वीटी के मुताबिक सईद ने खुद को कपड़ा व्यापारी बताया था। किराएदार की सूचना भी थाने पर दी थी। मकान मेरे ससुर के नाम पर है।