अमेरिका ने हॉन्ग कॉन्ग के साथ खत्म किए तीन प्रमुख समझौते

0
2

वॉशिंगटन
चीन को झटका देते हुए अमेरिका ने हॉन्ग कॉन्ग के साथ तीन महत्वपूर्ण समझौतों को खत्म कर दिया है। चीन के हॉन्ग कॉन्ग में नया राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लागू करने के बाद से ही अमेरिका खफा है। बुधवार को ट्रंप प्रशासन ने हॉन्ग कॉन्ग के साथ तीन द्विपक्षीय समझौतों को स्थगित या रद्द कर दिया। इसमें प्रत्यर्पण और कर छूट भी शामिल है। अमेरिका का साफ तौर पर कहना है कि चीन ने एशिया के ट्रेडिंग हब की स्वायत्तता और लोकतांत्रिक आजादी पर अंकुश लगाने के लिए नया कानून थोपा है।

एक महीने पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका के साथ हॉन्ग कॉन्ग के विशेष दर्जे को खत्म कर दिया था और हॉन्ग कॉन्ग में राजनीतिक असंतुष्टों पर कार्रवाई करने के लिए जिम्मेदार चीनी अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाने वाले कानून पर हस्ताक्षर किए थे।

विदेश विभाग की प्रवक्ता मॉर्गन ऑर्टागस ने कहा, 'हमने तीन द्विपक्षीय समझौतों के निलंबन या समाप्त करने के फैसले के बारे में 19 अगस्त को हॉन्ग कॉन्ग के अधिकारियों को सूचित कर दिया है। इन समझौतों में भगोड़े अपराधियों का आत्मसमर्पण, सजा पाए लोगों का स्थानांतरण और जहाजों के अंतरराष्ट्रीय संचालन से प्राप्त आय पर पारस्परिक कर छूट देना शामिल है।

प्रवक्ता ने कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने स्वायत्तता को खत्म करने के लिए कठोर कदम उठाए हैं, जिसका बीजिंग ने यूएन में पंजीकृत चीन-ब्रिटिश संयुक्त घोषणापत्र के तहत युनाइटेड किंगडम और हॉन्ग कॉन्ग के लोगों से 50 साल के लिए वादा किया था।

मॉर्गन ने कहा, 'राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने साफ कहा है कि इस तरह अमेरिका हॉन्ग कॉन्ग को एक देश, एक सिस्टम के तौर पर स्वीकार करेगा और हर उस शख्स के खिलाफ ऐक्शन लेगा जिसने हॉन्ग कॉन्ग के लोगों की आजादी को कुचला है।'