अब पीजीआई के डॉक्टर देश में तैयार पीपीई किट और मास्क पहन करेंगे इलाज

0
2

 लखनऊ  
लखनऊ जीआई के डॉक्टरों को कोरोना सहित अन्य मरीजों के इलाज के लिए अब अपने देश मे तैयार पीपीई किट और मास्क मिलेंगे। डॉक्टरों की सहमति पर संस्थान में इसकी आपूर्ति हो गई है। इसकी गुणवत्ता पर डॉक्टरों ने भरोसा जताया है। एक माह पहले पीजीआई के डॉक्टरों ने पीपीई किट की गुणवत्ता पर सवाल उठाए थे। जिसके बाद पीजीआई निदेशक डॉ. आरके धीमान ने देश में तैयार पीपीई किट ब मास्क लेने का फैसला लिया है।

पीजीआई, केजीएमयू और लोहिया संस्थान में उत्तर प्रदेश मेडिकल  सप्लाई कारपोरेशन की ओर से पीपीई किट, मास्क, ग्लब्स व अन्य सामग्री की आपूर्ति की जा रही है। मपहले एसजीपीजीआई के रेजिडेंट डॉक्टरों ने किट सहित अन्य सुरक्षा उपकरणों की गुणवत्ता पर सवाल उठाया था। उन्होंने हड़ताल की चेतावनी दे दी थी। जिसके बाद पीजीआई प्रशासन ने रेजीडेंट डॉक्टरों के साथ बैठक की। मामले की गंभीरता को समझते हुए चिकित्सा शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों से इस पर वार्ता हुई।

इसमें प्रदेशभर के मेडिकल कालेजों में प्रयोग होने वाले उपकरणों और एम्स नई दिल्ली सहित अन्य उच्च संस्थानों में प्रयोग होने वाले उपकरणों की गुणवत्ता का मूल्यांकन किया गया। जिसमें पीजीआई सहित अन्य संस्थानों को डॉक्टरों की मांग के अनुरूप गुणवत्तायुक्त उपकरण दिए जाएंगे। दूसरे देशों से आने वाले पीपीई किट व अन्य उपकरण लेने पर रोक लगा दी।

रेजीडेंट डॉक्टरों का कहना है कि भारतीय कंपनियों द्वारा तैयार मास्क व पीपीई किट में सिलाई की कोडिंग डबल है। वह पहले की अपेक्षा ज्यादा सहुलियत वाली हैं। इन्हें पहनकर मरीजों का उपचार करने में ज्यादा दिक्कत नहीं हो रही है।