उपराष्ट्रपति बोले: सरकारी नौकरी में महिला आरक्षण जरूरी

0
105
Vice President says: Women's reservation is essential in government jobs

महिला स्व-सहायता समूह के लिए शिवराज ने खोला घोषणाओं का पिटारा,

नायडू ने महिलाओं के लिए काम करने के लिए शिवराज को जमकर सराहा

उपराष्ट्रपति ने कहा-मैंने अपने जीवन इतना बड़ा महिला जन समूह पहले कभी नहीं देखा

Vice President says: Women's reservation is essential in government jobsभेल स्थित जंबूरी मैदान में रविवार को महिला स्व-सहायता समूहों का सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें मुख्यमंत्री ने इन समूहों के लिए कई बड़ी घोषणाएं की हैं। कार्यक्रम में भाग लेने के लिए उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू दोपहर को विशेष विमान से स्टेट हैंगर पहुंचे और उसके बाद सम्मेलन में हिस्सा लिया। सबसे पहले मुख्यमंत्री ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू का स्वागत किया। सम्मेलन को संबोधित करते हुए उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि सरकारी नौकरी में महिला आरक्षण जरूरी है।

Vice President says: Women's reservation is essential in government jobsभोपाल, सम्मेलन की अध्यक्षता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की और महिला स्व सहायता समूहों से जुड़ी जानकारी लोगों को उपलब्ध कराई। इस दौरान उन्होंने कहा कि महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए उन्हें हर प्रकार की सहायता दी जाएगी। उन्होंने कहा कि 5 करोड़ तक का लोन उपलब्ध कराया जाएगा। इस लोन का व्याज का एक हिस्सा सरकार द्वारा भरा जाएगा। महिलाओं के लिए परामर्श केंद्र भी उपलब्ध कराया जाएगा। अतिथि उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू कहा कि मैं ऐसा माहौल देखकर बहुत धन्य हूं। मुझे राजनीति में काफी समय हो गया है लेकिन मुझे ये कहने में कोई संकोच नहीं कि ऐसा नजारा उन्होंने पहले नहीं देखा। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जमकर तारीफ की और कहा कि महिलाओं के लिए जो कदम सरकार उठा रही है वह काबिलेतारीफ है। उन्होंने महिलाओं की लोन उपलब्ध कराने की शिवराज सरकार की योजना की जमकर तारीफ की और उन्हें ऐसा कदम उठाने के लिए बधाई दी।

Vice President says: Women's reservation is essential in government jobsअबला नहीं, सबला है नारी
नायडू ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए लोगों में मानसिक परिवर्तन होना चाहिए। इसके लिए सरकार और समाज को आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि जहां नारी का आदर होता है, वहां देवता भी खुश होते हैं। उप राष्ट्रपति ने कहा कि हमारे देश का नाम भारत माता है, भारत पिता नहीं। देवताओं के संबंध में देखें तो शिक्षा मंत्री सरस्वती देवी, रक्षा मंत्री दुर्गा देवी और वित्त मंत्री लक्ष्मी जी थीं। नदियां भी महिलाओं के नाम पर हैं। नारी को अबला नहीं सबला बताते हुए वर्तमान के संबंध में उन्होंने कहा कि हमारी लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज हैं। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि सभी लोग परिवार की संपत्ति में आधा हिस्सा लड़की को देने की दिशा में आगे बढ़ें। कई जगह लड़कियों के प्रति निम्न भाव है। हमें अपने आचरण में बदलाव लाना चाहिए।

Vice President says: Women's reservation is essential in government jobsशिवराज की अहम घोषणाएं
प्रदेश में 26 लाख से अधिक लाडली लक्ष्मी हैं, जिन्हें 21 वर्ष का होने पर 31 हजार करोड़ रुपए दिए जाएंगे।
आजीविका मिशन की बहनों द्वारा तैयार किए गए उत्पाद बहुराष्ट्रीय कंपनियों के प्रोडक्ट से ज्यादा बेहतर हैं, मैं इसका प्रचार करूंगा और खुद उपयोग भी करूंगा।
स्कूल के बच्चों के यूनिफार्म अब महिलाओं के स्व-सहायता समूह द्वारा सिले जाएंगे।
महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए आजीविका मिशन चलता रहेगा, साथ ही स्व-सहायता समूह को मिलने वाले लोन पर स्टाम्प ड्यूटी नहीं लगेगी, इसे सरकार भरेगी।
आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूहों के उत्पाद बेचने के लिए शहरों में बड़े मॉल में भी दुकानें ली जाएंगीं।
स्व-सहायता समूहों के लिए ट्रेनिंग सेंटर खुलेंगे, साथ ही टेकहोम राशन के लिए फैक्ट्री भी बहनें ही चलाएंगी।
महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित जैविक कल्चर व खाद सरकार द्वारा खरीदी जाएगी व किसानों को प्रदान की जाएगी।
पंचायत चुनाव में बहनों को 50% आरक्षण देने का फैसला किया और मुझे खुशी है कि ये मेरी बहनें पुरुषों से अच्छी सरकारें चला रही हैं।
– गांव में बिजली बिल वसूलने के लिए स्व-सहायता समूह को जिÞम्मेदारी दी जायेगी। इसके लिए समूह को 6 हजार रुपए प्रतिमाह और 15% प्रोत्साहन राशि अलग से दी जायेगी।

सरकार में हिम्मत है तो उपराष्ट्रपति को महिला अपराध के आंकड़े दिखाए: कांग्रेस
कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि यदि शिवराज सरकार में हिम्मत है तो प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ लगातार बढ़ते अपराध के आंकड़े उपराष्ट्रपति नायडू के सामने रखे। सिंधिया ने कहा कि भाजपा की आदत है कि झूठ बोलो, जोर से बोलो, और बार-बार बोलो। उन्होंने कहा कि सत्य परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं। सिंधिया ने शिवपुरी में आदिवासियों के मकान पर गरीब लिखना उनके माथे पर कलंक बताया है। उन्होने कहा कि आदिवासी सरकार से बदला लेंगे।