मध्यप्रदेश के रतलाम में बनाया गया पहला मंदिर

0
124

भगवान परशुराम जी की प्रतिमा स्थापना 24 को

surendra jain
रतलाम। सर्व ब्राह्मण महासभा के तत्वावधान में ब्राह्मïणों के आराध्यदेव भगवान परशुराम जी की प्रतिमा स्थापना आयोजन को लेकर एक बैठक शक्ति नगर में आयोजित की गई। इसमें बड़ी संख्या में समाजजन शामिल हुए। सभी ने एकमत से शिवरात्रि के पावन दिवस 24 फरवरी शुक्रवार को शक्ति नगर महाकालमंदिर परिसर में प्रतिमा स्थापित करने का निर्णय लिया है।

The first temple built in Ratlam in Madhya Pradesh



उक्त जानकारी देते हुए महासभा अध्यक्ष डॉ. अरूण पुरोहित ने बताया कि भगवान विष्णु के छटे अवतार परशुरामजी ने महादेव की कई वर्षो तक घोर तपस्या कर शिव धनुष, अक्षय तुणीर व दिव्य फरसा प्राप्त कर राम से परशुराम बने है। उनके मध्यप्रदेश में बने इस पहले मंदिर में नगर की समस्त ब्राह्मण संस्थाओं एवं ब्राह्मणजनों ने अपना सहयोग प्रदान किया है।भगवान परशुरामजी की प्रतिमा समाजसेवी अनोखीलाल दुबे द्वारा भेंट की गई है।
उन्होने बताया कि 24 फरवरी शुक्रवार को सुबह 10 बजे कस्तुरबा नगर टंकी परिसर से प्रतिमा के साथ भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी जो नगर के प्रमुख मार्गो से होती हुई मंदिर परिसर पहुंचेगी। यहां सुबह 11.30 बजे विधि-विधान के साथ प्रतिमा की स्थापना की जाएगी।
बैठक में समाज के परशुराम ब्राह्मण महासभा अध्यक्ष महेश शर्मा, शांतिलाल शर्मा, गायत्री परिवार के पातीराम शर्मा, विश्व ब्राह्मण संगठन अध्यक्ष नरेन्द्र



जोशी, पं. रामचन्द्र शर्मा, डॉ. अमर सारस्वत, सूर्यनारायण उपाध्याय, नरेन्द्र जोशी, नवीन व्यास, प्रकाश जोशी, गोपाल शर्मा, एम.एल. उपाध्याय, वीरेन्द्र कुलकर्णी, आरती त्रिवेदी, कीर्ति शर्मा, सुशील तिवारी, सुरेश दवे, भवानी शंकर मोड़, रूद्रवीर शर्मा सहित बड़ी संख्या में संगठनों के पदाधिकारी एवं सदस्यगण उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डॉ. मुनिन्द्र दुबे द्वारा किया गया।