सिंधिया की किसान जनआक्रोश रैली ने बदला भाजपा का चुनावी गणित

0
321
Scindia farmer Janakrash Rally, BJP's electoral math

भारी जनसैलाब के बीच सिंधिया ने मुख्यमंत्री के आरोपों पर किया पलटवार

asish malviya
अशोकनगर। रविवार को कांग्रेस द्वारा मुंगावली विधानसभा के पिपरई में किसान जन आक्रोश रैली का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्यमंत्री की सभाओं के विपरीत भारी जनसैलाब उमड़ पड़ा। कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की इस सभा में आई भीड़ को देखकर मुंगावली उप चुनाव के सारे समीकरण बिगड़ गए हैं। सांसद सिंधिया ने सभा के दौरान भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया।

Scindia farmer Janakrash Rally, BJP's electoral mathदरअसल मुंगावली उप चुनाव की तैयारियों को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा क्षेत्र के सेहराई, बहादुरपुर सहित मुंगावली में कई सभाएं एवं रोड शो किए थे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कई आरोप लगाए थे। मुख्यमंत्री के दौरे के बाद कांग्रेस सांसद सिंधिया ने रविवार को मुंगावली विधानसभा की पिपरई में जनाक्रोश रैली मंडी परिसर में आयोजित की। भीड़ को देखकर सांसद सिंधिया खासे उत्साहित दिखे। किसान सम्मेलन एवं जन आक्रोश रैली में सांसद सिंधिया ट्रैक्टर चलाते हुए मंच तक पहुंचे। इस दौरान सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश सरकार को जमकर कोसा। वहीं उन्होंने भावांतर को भ्रष्टाचार अनंत योजना बताया।

Scindia farmer Janakrash Rally, BJP's electoral mathदलित मुद्दे पर किया बार:- जन आक्रोश रैली को संबोधित करते हुए सांसद सिंधिया ने मुख्यमंत्री को दलित प्रेम के मुद्दे पर घेरा। सांसद ने मुख्यमंत्री के द्वारा रात्रि में दलित शिक्षक के यहां किए गए भोजन पर व्यंग करते हुए कहा कि यह वही मुख्यमंत्री है, जिन्होंने मुंगावली कॉलेज के दलित प्रिंसिपल को इस वजह से निलंबित करके हटा दिया, क्योंकि उन्होंने सांसद निधि से कॉलेज की व्यवस्थाओं के लिए राशि की मांग की थी। सिंधिया ने अशोकनगर के भाजपा विधायक के द्वारा पत्तल पर भोजन करने के मुद्दे को भी उठाया। इस घटना को बीजेपी का दोहरा चरित्र बताया।

भीड़ से उत्साहित दिखे सांसद सिंधिया:- हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सभाओं में उमड़ी भीड़ और रोड़ शो के दौरान लोगों के हुजूम के बाद सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की सभा को कांग्रेस का जवाबी प्रदर्शन माना जा रहा है। मुख्यमंत्री की सभाओं से ज्यादा उमड़ी भीड़ को लेकर सिंधिया खासे उत्साहित दिखे। पिपरई में इतनी भीड़ पहली बार किसी कार्यक्रम में होना बताया जा रहा है। मंच पर पहुंचते ही सांसद सिंधिया ने लोगों का जोरदार अभिवादन किया। लोगों की भीड़ को लेकर सिंधिया ने कहा कि यह सरकार के द्वारा लाई गई भीड़ नहीं है, बल्कि आई गई भीड़ है। कांग्रेस नेताओं ने खचाखच भरे मंडी प्रांगण एवं आस पास के घरों पर मौजूद लोगों की संख्या को लगभग 30 से 35 हजार के आसपास की संख्या बताया।

विकास के मुद्दे पर दिया जवाब:- मुंगावली दौरे के दौरान मुख्यमंत्री ने सिंधिया पर जो आरोप लगाए थे उनको लेकर सांसद सिंधिया ने खुलकर बात की। सिंधिया ने कहा कि चुनाव के पहले मुख्यमंत्री और उनके मंत्रियों की फौज इस इलाके में आ रही है। इसके पहले कभी कोई इस इलाके की सुध लेने नहीं आया। करीला विकास प्राधिकरण और उसको लेकर की घोषणा को लेकर सांसद ने कहा कि धर्म के बहाने ही सही सरकार ने करीला धाम को जो घोषणा की है, इसे जरूर पूरा करें। सिंधिया ने आरोप लगाया कि शिवपुरी उप चुनाव के समय भी डेढ़ सौ करोड़ रुपए की घोषणा की थी, मगर एक भी पूरी नहीं हुई। सिंधिया ने एक बड़ा आरोप मुख्यमंत्री पर लगाया उन्होंने कहा कि विकास के मुद्दों पर उन्होंने कई बार मुख्यमंत्री को पत्र लिखे है। मगर शिवराज सिंह ने कभी उन पर जवाब नहीं दिया। सिर्फ एक लाइन की चि_ी आती थी कि आपका पत्र मिला है उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुखिया को सांसदों के पत्र का जवाब लेते नहीं बन रहा इस को क्या कहा जाए। मुख्यमंत्री के दौरे पर भी सिंधिया ने चुटकी ली उन्होंने कहा कि आज से पहले मुख्यमंत्री मुंगावली या आसपास की किसी गांव में नहीं आए। अब चुनाव आया है तो गांव में और गलियों में घूम रहे हैं। उन्होंने लोगों से कहा कि यह बीजेपी एवं कांग्रेस की लड़ाई नहीं है ना ही सिंधिया और सरकार के बीच की लड़ाई है। उन्होंने इस चुनाव को न्याय और विकास के लिए संघर्ष बताया।

रैली के दौरान जिलेभर से बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं सहित किसान पहुंचे। यह आयोजन पिपरई का अब तक का सबसे बड़ा आयोजन माना जा रहा है।