गृह सचिव व डीजीपी से जवाब-तलब

0
130

अलीराजपुर के तत्कालीन एसपी के मामले में कैट सख्त

जबलपुर। केन्द्रीय प्रशासनिक अधिकरण (कैट) ने अलीराजपुर के तत्कालीन एसपी को अतिरिक्त बल दिये जाने संबंधी मामले में दो वर्ष बाद चार्जशीट दिये जाने व जवाब दिये जाने के बाद आगे कोई कार्रवाई न किये जाने को गंभीरता से लिया। कैट के प्रशासनिक सदस्य नवीन टंडन की अध्यक्षता वाली बेंच ने मामले में डीओपीटी नई दिल्ली व मप्र के गृह विभाग के सचिव सहित डीजीपी को हमदस्त नोटिस जारी कर जवाब पेश करने के निर्देश दिये हैं।

यह मामला अलीराजपुर के तत्कालीन एसपी अखिलेश झा की ओर से दायर किया गया है। जिसमें कहा गया है कि अलीराजपुर में अतिरिक्त पुलिस बल दिये जाने को लेकर जुलाई 2016 में उन्हें चार्जशीट दी गई, जबकि घटना वर्ष 2014 की बतायी गई थी। आवेदक एसपी की ओर से कहा गया कि उक्त मामले में जवाब दिये जाने के बावजूद भी न तो चार्जशीट निरस्त की गई और न ही आगे की कोई कार्रवाई की गई, बल्कि उनका कंफरर्मेशन रोक दिया गया और प्रतिनियुक्ति मना कर दी गई, इतना ही नहीं डीआईजी पद पर पदोन्नत भी नहीं किया गया। सुनवाई पश्चात् कैट ने मामले में अनावेदकों को नोटिस जारी कर जवाब पेश करने के निर्देश दिये हैं। याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता पंकज दुबे व अर्जुन सिंह ने पक्ष रखा।