All type of NewsFeaturedजिले की खबरेसतना

भाजपा को बिजली का झटका देने की तैयारी

कांग्रेस और बसपा बना रहीं अलग-अलग रण्नीति

rajesh dwivedi

सतना। नेताओं को नेतागिरी का बहाना चाहिए। इस समय ‘बिजलीÓ में उन्हें चुनावी संभावनाएं नजर आ रहीं हैं। कांग्रेस व बहुजन समाज पार्टी को लग रहा है कि बिजली के आधार पर भाजपा को ‘करंटÓ लगाया जा सकता है। इधर कांग्रेसी उ मीदों को नेस्तनाबूद करने भाजपा भी तैयारी कर रही  है। हालांकि कांग्रेस तो चित्रक्ूट उपचुनारव की जीत के खुमार से अब तक नहीं उबरी है लेकिन बहुजन समाज पार्टी अब बिजली समस्या के इर्द-गिर्द अपनी सियासी रणनीति बना  रही है।

Preparing to blow up the BJPप्रशासन भी है तैयार

बिजली को लेकर हो रही राजनीति और सीएम के दिशा निर्देश के बाद प्रशासन भी स त है। बिजली विभाग के साथ समन्वय बना कर कै प लगा कर समस्याओं को निराकृत करने के उपकृमों के बाद भी शिकायतों की सं या कम नहीं हो रही है।बीते दिनों इसी कड़ी में मैहर में विद्युत कैंप लगाकर  जनाक्रोश कम करने का प्रयास किया गया। इधर इस मामले को पहले ही मुद्दा बनाए बैठी कांग्रेस के साथ-साथ  बसपा भी सुर मिलाने की तैयारी कर रही  है। प्रशासन की बिजली पर नजर है।

कांग्रेस में खदबदाहट

बिजली मुद्दे को जनता का समर्थन मिल रहा है। ये समर्थन कांग्रेसी उ मीदों को पूरा कर सकता है। लेकिन श्रेय के आपसी द्वंद ने कांग्रेस के अंदर खदबदाहट मचा दी है। शहर कांग्रेस कमेटी के कुछ पदाधिकारी  कह रहे हैं कि  इस आंदोलन का श्रेय चूंकि एक गुट विशेष को जा सकता है, इस कारण बिजली आंदोलन को ज्यादा हवा न दी जाए। यदि ये सौतिया डाह काम कर गया, तो अच्छे-भले मुद्दे की हवा निकलने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। कांग्रेस का बिजली आंदोलन शहर में तो दिखाइ दे रहा है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में इसका असर नेताओं की निष्क्रियता के कारण कम है।

कोई मुद्दा ही नहीं

कांग्रेसी की आक्रामकता को भांपते हुए भाजपा नेता बिजली को कोई मुद्दा ही मानने से इंकार कर रहे हैं। मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी कहते हैं कि  सीएम के निर्देश के बाद ये तय हो गया है कि घरेलू कनेक्शन काटे नहीं जाएंगे। एवरेज बिल की प्रक्रि या की समीक्षा की जाएगी। वहीं बाहर मीटर लगाने को भी तकनीकी रूप से सही मान लिया गया है। ऐसे में बिजली कोई मुद्दा नहीं है। नारायण ने कहा कि यदि कांग्रेसी जबरदस्ती बंद कराएंगे, तो प्रशासन एवं पुलिस के साथ मिलकर भाजपा इसका कड़ा विरोध करेगी, और व्यापारियों को सुरक्षा प्रदान कराएगी।

भाजपा में ऊपर तक जा रहा बिल का पैसा- प्रदीप

बहुजन समाज पार्टी के जिला उपाध्यक्ष प्रदीप समदरिया ने कहा कि इन दिनों जिस प्रकार से बिजली विभाग बिल तैयार कर रहा है , उससे स्पष्ट है कि यह पैसा भाजपा के शीर्ष नेताओं तक जा रहा है। यदि ऐसा नहीं है तो फिर क्या कारण है कि विगत कई माह से विभाग द्वारा भेजे जा रहे दोगुने तिगुने बिल को लेकर विधायक , सांसद व मु यमंत्री चुप्पी साधे हुए हैं। प्रदीप ने कहा कि शहर की 60 फीसदी उपभोक्ताओं को वास्तविक खपत से इतर बोगस बिल दिए जा रहे हैं जिससे उपभोक्ता त्राहि-त्राहि कर रहा है। इस मामले में प्रशासनिक अधिकारियों व भाजपा नेताओं के बीच मिली भगत है जिसका खामियाजा जनता भोग रही है। बसपा जिला उपाध्यक्ष ने बिजली विभाग के आला अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए खपत के अनुरूप बिल भेजने की मांग की है। इस मामले में जल्द ही सुधार न किया गया तो जल्द भी बसपा जनांदोलन छेड़ेगी।

ajay dwivedi
the authorajay dwivedi