All type of NewsFeaturedजिले की खबरेमंडला

दिव्यांगों के लिए हुआ अनोखा परिचय सम्मेलन

marriage-partners-will-get-life-partner

दिव्यांगों के लिए हुआ अनोखा परिचय सम्मेलन

जिला प्रशासन और एनजीओ ने दिखाया बेमिसाल तालमेल

विश्व दिव्यांग दिवस पर सम्पन्न हुआ सम्मेलन

Syed Javed Ali
मण्डला – विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर दिव्यांगों का परिचय सम्मेलन नगरपालिका परिसर मण्डला में 3 दिसम्बर 2017 को सम्पन्न हुआ। सम्मेलन में मुख्य अतिथि राज्यसभा सांसद श्रीमति संपतिया उईके ने अपने उद्बोधन में कहा कि दिव्यांगों एवं उनके परिजनों की उपस्थिति में ऐसा कार्यक्रम जिले में पहली बार हो रहा है, उन्होंने कहा कि विवाह के समय जोडों के वस्त्रों की व्यवस्था की जायेगी। जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति सरस्वती मरावी एवं जिला पंचायत उपाध्यक्ष शैलेष मिश्रा द्वारा भी जनसामान्य को सम्बोधित किया गया। इस परिचय सम्मेलन में कलेक्टर श्रीमति सूफिया फारूकी वली ने दिव्यांगों से मुलाकात की एवं उनका स्वागत माला पहनाकर किया। उन्होने कहा कि इस सम्मेलन को सुचारू रूप से सम्पन्न करना काफी चुनौतीपूर्ण था, लेकिन जिला प्रशासन की टीम एवं गैर सरकारी संगठनों के नेतृत्व एवं सहयोग से यह सम्मेलन सफलतापूर्वक संचालित हुआ। कार्यक्रम के मुख्य सूत्रधार एवं नेतृत्वकर्ता जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एस एस रावत ने कहा कि विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर विवाह योग्य दिव्यांगों को सामाजिक जीवन जीने के लिए एक उचित मंच प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराया गया है।

दिव्यांगों के इस सम्मेलन की यह विशेषता रही है कि इसे न केवल प्रशासन द्वारा संचालित किया गया बल्कि जनसामान्य का भरपूर सहयोग एवं समर्थन भी मिला। प्रथम दस दिव्यांग जोडों को योगेश पाराशर की संस्था द्वारा मोबाईल भेट कर सम्मानित किया गया। सुशील मिश्रा की टीम द्वारा दिव्यांगों की परिचय पुस्तिका का प्रकाशन किया गया। आनंदम दिव्यांग मोबाईल वेन सेवा एवं वीडियोंग्राफी की सेवा रविन्द्र पटेल की टीम के सहयोग से प्रदान की गई। सम्मेलन को अभूतपूर्व सफलता हासिल हुई है जिसकी चहूओर प्रशंसा की जा रही है। सम्मेलन में कुल 397 दिव्यांगों द्वारा पंजीयन कराये गये जिसमें 267 लडके एवं 130 लडकियां शामिल थी। सम्मेलन में 49 जोडें विवाह हेतु तैयार हुये जिनकी संख्या आगे बढ़ सकती है। इन तैयार जोडों का विवाह मार्च 2018 में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के अंतर्गत कराया जायेगा। दिव्यांगों के जोडों में सात जोडे ऐसे भी पाये जिनमें प्रथम जोडे में लडकी सामान्य जबकि लडका दिव्यांग रहा एवं द्वितीय जोडे में लडकी दिव्यांग जबकि लडका सामान्य रहा। सम्मेलन में अंतर्राजातीय विवाह हेतु एक जोडा शामिल हुआ जिसमें दिव्यांग पार्वती बैरागी एवं दीपक उईके का जोडा तय हुआ। सम्मेलन में शामिल सभी दिव्यांगों को परिचय पुस्तिका का वितरण किया गया एवं उनका परिचय माईक एवं एल ई डी स्क्रीन के माध्यम से प्रसारित किया गया।

सम्मेलन में जिला एवं जनपद पंचायत, महिला एवं बाल विकास विभाग, महिला सशक्तिकरण विभाग, जन अभियान परिषद् आदि के द्वारा सहयोग एवं काउंसिलिंग संचालित की गई। जिला प्रशासन की ओर से अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी अनिल कोचर, मुख्य नगरपालिका अधिकारी सी के मेश्राम, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी प्रशांत ठाकुर, जिला उद्योग एवं व्यापार महाप्रबंधक दिनेश मर्शकोले, ई गर्वेनेंस महाप्रबंधक विपिन पांडे आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन अखिलेश उपाध्याय, प्रीती दुबे और सुनीता बैरागी ने किया।

ajay dwivedi
the authorajay dwivedi