All type of NewsFeaturedउज्जैनजिले की खबरे

भैरवगढ़ थाना क्षेत्र के गढ़ा मार्ग पर युवक की हत्या

brijesh parmar
उज्जैन। भैरवगढ़ थाना क्षेत्र के गंभीर नदी और गढ़ा गांव के बीच मुख्य मार्ग पर पुलिस को धारदार हथियारों से गुदी युवक की लाश मिली है। मृतक की जेब से मिले आधार कार्ड के आधार पर उसकी पहचान धीरज सिंह पिता वकीलसिंह २६ साल निवासी निमनवासा के रूप में हुई है।

bhavtarini logo_new copyपुलिस को मुख्य मार्ग पर लाश पड़े होने की सूचना सोमवार सुबह मिली थी। इस आधार पर पुलिस ने पहुंचकर शव बरामद किया। युवक के शरीर पर आधा दर्जन से ज्यादा धारदार हथियारों के वार मिले हैं। मृतक की जेब से मिले आधार कार्ड से उसकी पहचान हुई। उसके निमनवासा स्थित पते पर जांच करने पर मालूम हुआ कि मृतक का परिवार माधवनगर थाना अंतर्गत अलकापुरी में रहता है। पुलिस को प्रारंभिक जानकारी में सामने आया है कि मृतक मूलत: बिहार के सिवान के रहने वाले परिवार का है। वर्ष २०११ में उसके परिवार ने निमनवासा में चार बीघा जमीन खरीदी थी। मृतक का आपराधिक होना भी पारिवारिक रूप से पुलिस को मिली जानकारी में सामने आया है। उस पर मुम्बई और हैदराबाद क्षेत्र में अपराध दर्ज होने की जानकारी बताई गई है। मृतक युवक पिछले कुछ अरसे से परिवार के साथ यहां रह रहा था। पुलिस हत्या के कारणों और हत्यारों को लेकर जानकारी जुटाने में लगी है। भैरवगढ़ थाना पुलिस ने हत्या का प्रकरण अज्ञात हत्यारों के खिलाफ दर्ज किया है।
– युवक मूलत: सिवान का रहने वाला है। अज्ञात हत्यारों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया गया है। जांच करते हुए तथ्य जुटाए जा रहे हैं।
-मलकीतसिंह, सीएसपी, जीवाजीगंज क्षेत्र, उज्जैन

आर्मी के रिटायर्ड डॉक्टर ने फांसी लगाई
उज्जैन। महाकाल थाना क्षेत्र अंतर्गत रुद्र सागर इंटरप्रिटीसन सेंटर के सामने रहने वाले आर्मी के रिटायर्ड डॉक्टर ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। महाकाल पुलिस को मृतक के पास ेसे सुसाइड नोट मिला है।
रुद्रसागर इंटरप्रिटीसन सेंटर के सामने मिश्रीलाल राठौर के मकान में चार माह पहले किराए से रहने के लिए द्वारकापुरी भोपाल निवासी दीपक पिता के.एन. धनोतिया ६० साल आए थे। वे सेना से सेवानिवृत्त डॉक्टर थे। सोमवार सुबह उनके घर खाना बनाने वाली बाई अनीसा बी पहुंची और उसने दरवाजा खोलो तो दीपक धनोतिया को फंदे पर झूलता पाया। सूचना के बाद पुलिस पहुंची। शव बरामद कर उसे जिला अस्पताल पहुंचाया गया। सुसाइड नोट में मृतक ने लिखा है कि उसका अंतिम संस्कार पुलिस करवाए। भोपाल की उसकी संपति महाकाल मंदिर को दे दी जाए। मृतक के बारे में यह जानकारी सामने आई है कि पत्नी से विवाद के चलते वह अलग रह रहा था। पत्नी कानपुर में है। उसकी एक बेटी भी है। मृतक के परिवार को कानपुर और भोपाल में सूचना दी गई है।

ajay dwivedi
the authorajay dwivedi