All type of NewsFeaturedजिले की खबरेसीहोर

प्रदेष में इतिहास रचा जायेगा: मुख्यमंत्री

History will be created in the context: Chief Minister

भावांतर योजना के अंतर्गत सीहोर जिले के

55150 किसानों के खातों में 57.10 करोड रू की राषि जमा कराई गयी

सीहोर, मुख्यमंत्री षिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि मध्यप्रदेष में सिंचित खेती का रकबा बढाकर साठ लाख हैक्टेयर किया जायेगा। अभी चालीस लाख हैक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की जाती है। इसे और बढाने के लिये प्रदेष भर में योजनाऐं बनाई जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चैहान आज सीहोर जिले के नसरूल्लागंज में भावांतर योजना ,आर.टी.जी.एस. योजना से किसानों के खाते में राषि के अंतरण तथा अन्त्योदय मेले में किसानों को सम्बोधित कर रहे थे। भावांतर भुगतान योजना के अन्तर्गत सीहोर जिले के 55150 किसानों के खातों में 57.10 करोड रू की राषि एक क्लिक के माध्यम से जमा की गयी है।

History will be created in the context: Chief Ministerमुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा परंपरागत तरीके से नहरें न बनाकर नर्मदा का जल पार्वती नदी में डाला जायेगा। जहाॅ से किसानों के खेतों तक पानी पहॅुचाने की व्यवस्था की जायेगी । इसके लिये प्रषासकीय स्वीकृति भी दे दी गयी है। सिंचाई का रकवा बढाने के लिये नर्मदा को क्षिप्रा से जोडा गया है। पूरे प्रदेष में इस प्रकार से असिंचित क्षेत्रों में सिंचाई हेतु पानी पहॅुचाने की व्यवस्था की जा रही है। अकेले सीहोर जिले की नसरूल्लागंज तहसील में 33 हजार अतिरिक्त हैक्टर में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। इसके लिये प्राक्कलन तैयार कर लिया गया है। मध्यप्रदेष में सिंचाई का रकबा बढाने का एक नया इतिहास लिखा जा रहा है।

History will be created in the context: Chief Ministerमुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि मध्य प्रदेष की सरकार किसानों के कल्याण के लिये प्रतिबद्व है। खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिऐं युवा कृषक उधमी योजना बनायी गयी है। ऐसे युवा जो उघानिकी उत्पादों पर आधारित उघोग खोलना चाहेगे उन्हे ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। यह योजना इसलिये बनाई गयी है ताकि किसान खेती से जुडे अन्य व्यवसायों में भी आगे आयें।

History will be created in the context: Chief Ministerउपस्थित अपार जनसमुदाय को संबोधित करते हुए श्री चैहान ने कहा कि वे जनता के मुख्यमंत्री है। अपनी सुरक्षा की परवाह किये बिना वे जनता के बीच जाते है। समाज के सभी बर्गों की बात सुनते हैं तथा उनको हल करने का प्रयास करते है जनता उनके लिये सर्वोपरि है।

History will be created in the context: Chief Ministerभांवातर भुगतान योजना की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जब यह योजना शुरू की गयी तब अनेक प्रकार की आलोचना की गयी थी। परन्तु सरकार को किसान की चिन्ता थी। अब इस योजना के क्रियान्वयन की प्रक्रिया समझने अन्य प्रदेषों के अधिकारी भी म.प्र. के दौरे पर आ रहे है। दिसम्बर माह तक का भावांतर योजना की राषि किसानों के खातों में जमा कर दी गयाी है।

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि प्रदेष में स्व-सहायता समूह बहुत अच्छा काम कर रहें है। उनके उत्पादों की मार्केटिंग के लिये वे स्वंय ब्रांड एम्बेसडर बनेंगे। स्वसहायता समूहों द्वारा तैयार की गयी वस्तुओं की मार्केटिंग की पुख्ता व्यवस्था की जाऐगी। अगले षिक्षा सत्र में स्कूली बच्चों को दी जाने वाली ड्रेस भी स्वसहायता समूहो से तैयार करवाई जायेगी। ताकि उनकी वित्तीय स्थिति अच्छी रहे। प्रदेष भर के स्वसहायता समूहो का सम्मेलन शीध्र ही सीहोर में बुलाया जायेगा।
कार्यक्रम में लोकनिर्माण मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह ,मार्कफेड के अध्यक्ष श्री रमाकांत भार्गव, वन विकास निगम के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राजपूज, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, सीहोर विधायक श्री सुदेष राय , प्रषासनिक अधिकारी तथा हजारों की संख्या में हितग्राही और जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री श्री षिवराज सिंह चैहान ने भांवातर भुगतान योजना के अन्तर्गत 55150 किसानों के खातों में 57.10 करोड रू की राषि किसानों एक क्लिक के माध्यम से जमा की। सीहोर जिले में भावांतर भुगतान योजना के अन्तर्गत कृषि उपज सोयाबीन, मक्का उडद मूॅग और तुअर का पंजीयन कराया गया। पंजीकृत किसानों की संख्या 74410 है। कार्यक्रम के पूर्व मुख्य मंत्री ने लोक निर्माण विभाग, म.प्र. ग्रामीण सडक विकास प्रधिकरण, मंडी बोर्ड, पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग तथा जल संसाधन विभाग के 213.60 करोड रू लागत के 11 कार्यो का षिलान्यास किया। उन्होने प्रतीक स्वरूप् कुछ हितग्राहियों को भू अधिकार प्रमाण पत्र वितरित किये। नसरूल्लागंज राजस्व अनुभाग में 6752 हितग्राहियों को भू-अधिकार प्रमाण पत्र किये जायेगे। श्री चैहान ने नसरूल्ला गंज से नीलकंठ मार्ग का लोकार्पण किया। 10.15 कि.मी. लम्बे इस मार्ग के निर्माण पर 22 करोड 55लाख रू की लागत आयी है।

इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री श्री रामपालसिंह, मार्कफेड के अध्यक्ष श्री रमाकांत भार्गव, वन विकास निगम अध्यक्ष श्री गुरूप्रसाद शर्मा, वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन अध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, सीहोर विधायक श्री सुदेश राय, प्रदेश भाजपा मंत्री श्री रधुनाथ भाटी, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री सीताराम यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि, भोपाल संभागायुक्त श्री अजातशत्रु श्रीवास्तव, आईजी श्री जयदीप प्रसाद, डीआईजी श्री के बी शर्मा, कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथोडे, एसपी श्री सिद्वार्थ बहुगुणा सहित अन्य शासकीय सेवक औरय हजारों की संख्या में हितग्राही एवं स्थानीय जन उपस्थित थे।

ajay dwivedi
the authorajay dwivedi