All type of NewsFeaturedजिले की खबरेमंडला

ग्रामीणों की सुविधा के लिए सभी एसडीएम अपने – अपने क्षेत्र में करेंगेे जनसुनवाई – कलेक्टर अनय द्विवेदी

लोगों को न मिले शिकायत का मौक

ग्रामीणों की सुविधा के लिए सभी एसडीएम अपने – अपने क्षेत्र में करेंगेे जनसुनवाई – कलेक्टर अनय द्विवेदी

लंबित शिकायतों के निवारण स्तर को बढ़ाना होगी प्राथमिकता

कलेक्टर ने ली सभी विभाग प्रमुखों की बैठक

for-the-convenience-of-the-villagers-all-the-sdms-will-do-public-hearing-in-their-own-field-collector-anay-dwivedi

Syed Javed Ali
मण्डला – कलेक्टर अनय द्विवेदी ने अपने कार्यभार ग्रहण करने के पश्चात जिले के सभी विभागों के प्रमुख अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह से सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में जनसुनवाई करेंगे। सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी अपने अधीनस्थ अमले के साथ अपने कार्यालय में ही ग्रामीणों की समस्याऐं सुनकर निराकरण करेंगे। इससे दूरस्थ इलाकों के ग्रामीणों को जनसुनवाई के लिए जिला मुख्यालय में आने की आवश्यकता नहीं होगी। अनुविभागीय दण्डाधिकारी अपने स्तर पर ही समस्याओं को निपटाने का प्रयास करेंगे। कलेक्टर ने स्पष्ट कहा कि यदि किसी अनुभाग के अधिकारियों द्वारा किसी समस्या का समाधान पर्याप्त रूप नहीं किया जाता तथा ऐसे मामले जिला मुख्यालय की जन सुनवाई में आने पर संबंधित क्षेत्र के अधिकारी जिम्मेदार होंगे। श्री द्विवेदी ने कहा कि सभी एसडीएम अपने क्षेत्र के कार्यालयों की सतत् रूप से निगरानी करेंगे। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की आवश्यक कार्य से मुख्यालय छोड़ने के पहले मुझे या अपने अधिकारियों को आवश्यक रूप से सूचित किया जाये। बिना किसी सूचना के मुख्यालय छोड़ने पर उन्होंने कार्यवाही के निर्देश दिये।

कलेक्टर ने बैठक में सभी अधिकारियों को अपने-अपने विभाग की प्रमुख समस्याओं से संबंधित प्रपत्र तैयार करने के भी निर्देश दिये। इस प्रपत्र में सभी आवश्यक जानकारियाँ, समस्याओं का विवरण तथा उनके निवारण के लिए किए गए प्रयासों आदि का ब्यौरा होगा। उन्होने कहा कि सभी कार्यालय प्रमुख अपने कार्यालय की बैठक के लिए दिवस निर्धारित कर ले ताकि अन्य शासकीय कार्यों में बार-बार बाधा उत्पन्न न हो।

कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाईन से संबंधित शिकायतों के निवारण के लिए तत्परता दिखाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कोई भी शिकायत अनावश्यक रूप से लंबित न हो। यदि कोई शिकायत दो या दो से अधिक विभागों से संबंधित है तब आपसी समन्वय से ऐसे मामले निपटाये जाये। अधिकांश शिकायतों का निवारण एल-1 तथा एल-2 स्तर पर ही करने के प्रयास किये जायें। बैठक में श्री द्विवेदी ने सभी अधिकारियों को अपने अधीनस्थ कार्यालयों के नियमित रूप से दौरे करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि दौरे करने के पश्चात् सभी अधिकारी अपनी निरीक्षण रिपोर्ट भी तैयार करेंगे। इससे पहले कलेक्टर श्री द्विवेदी ने सभी जिला अधिकारियों तथा विभाग प्रमुखों से परिचय लिया।

ajay dwivedi
the authorajay dwivedi