जिला महिला हॉकी के लिए बनेगा खेल मैदान

0
42

करेंगे मदद- विधायक पाटीदार

 

31 maykhargone.01navratan yadav
खरगोन। खेलों के क्षेत्र में बालिकाओं की प्रगति में हम कोइ भी अड़चन नहीं आने देगें। जिले और शहर की हॉकी खिलाड़ी बालिकाएं प्रदेश और देश की राष्ट्रीय स्पर्धाओं में चयनित हो रही है यह हमारे लिए गर्व का विषय है। शहर की बालिकाओं को हॉकी प्रशिक्षण में हम किसी प्रकार की कमी नहीं आने देंगे। यह बात क्षेत्रीय विधायक बालकृष्ण पाटीदार ने ग्रीष्म कालीन महिला हॉकी प्रशिक्षण शिविर के समापन समारोह में कहीं। विधायक पाटीदार ने शिविर आयोजन को लेकर बाल शिक्षा निकेतन व जिला महिला हॉकी एकेडमी की सराहना भी की। उन्होंने इसे पुण्य कार्य बताते हुए समग्र सहयोग का आश्वासन दिया।  डीआरपी लाईन मैदान पर सतत छठे वर्ष महिला हॉकी प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया। शिविर में कुल 54 बालिकाओं ने भाग लेकर हॉकी प्रशिक्षण प्राप्त किया। समापन समारोह के अवसर पर आमंत्रित अतिथियों के रूप में विधायक बालकृष्ण पाटीदार, पुलिस अधीक्षक अमितसिंह, डीआर दीपक शर्मा, जिला खेल अधिकारी रामराव नागले, प्राचार्य श्रीमती माया देवी गुप्ता, श्रीमती मालती तिवारी उपस्थित थे। एसपी अमितसिंह ने हॉकी प्रशिक्षण में शामिल बालिकाओं की संख्या को लेकर प्रसन्नता जाहिर की और जिला महिला हॉकी एकेडमी के प्रयासों की प्रशंसा की। डीआर दीपक शर्मा ने बालिकाओं को खेल जीवन की शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम में कोच अनिल पाण्डेय, इकबाल खान, रश्मि वर्मा सहित पालकगण उपस्थित थे।
उत्कृष्ट है जिला महिला हॉकी संघ का रिकार्ड
सत्र 2009-10 में वरिष्ठ समाजसेवी मनमोहनसिंह चावला ने बाल शिक्षा निकेतन खरगोन में महिला हॉकी की नींव रखी। प्राचार्य मायादेवी गुप्ता और मालती तिवारी ने इसे प्रगति दी संस्था के खेल प्रशिक्षक अनिल पांडेय शुरूआत से ही प्रशिक्षण का जि मा संभाल रहे है। प्रथम वर्ष से लगातार यहां की बालिकाएं राज्य स्तर पर जिले का प्रतिनिधित्व कर रही है। राष्ट्रीय स्तर पर तीन बार प्रतिनिधित्व कर चुकी है। सत्र 2015-16 में शिक्षा विभाग और ट्रायबल की राज्य हॉकी स्पर्धाओं के अंतर्गत 14, 17, एवं 19 वर्ष आयुवर्ग में कुल 19 बालिकाओं ने भोपाल, मंदसौर एवं बिलासपुर में कौशल दिखाया। आभार प्राचार्य मायादेवी गुप्ता ने माना। इस अवसर पर एक प्रदर्शन मैच खेला गया एवं अतिथियों द्वारा प्रशिक्षाणिर्थी बालिकाओं को प्रमाण पत्र वितरित किए गए।