कीचड से सना रास्ता

0
19

photo 07patiram patel
सिहोरा (बोहानी) हर्रई रेलवे गेट से ठुटी तक लगभग एक किलोमीटर का रास्ता इस बरसात के मौसम में इतना खराब हो गया है कि यहॉं से निकल पाना मुष्किल हो रहा हैं। ज्ञात हो कि यह रास्ता हर वर्ष खराब हो जाता हैं। ग्रामीणजनों द्वारा अनेक बार इस रास्ते के निर्माण हेतु कहा गया लेकिन अभी तक कोई ध्यान नहीं दिया गया जिस कारण से इस रास्ते आने जाने वाले लोगों को अत्यंत परेषानी का सामना करना पड रहा है। इस रास्ते से स्कूल जाने वाले बच्चे काफी परेषान होते हैं। चूंकि हायर सेकेण्डरी विद्यालय हर्रई में है और ठुटी से आने वाले छात्र/छात्राओं को परेषानी होती है। इस रास्ते से ठुटी, पनारी के बच्चे अध्ययन हेतु हर्रई आते हैं। इसके अलावा स्टेषन बोहानी तक जाने के लिये भी यही एक ही मार्ग है ऐसी स्थिति में लोगों को समय पर टेªन तक नहीं पा सकते हैं। बच्चे भी अपने स्कूल तक जाने के लिये एक किलोमीटर का रास्ता कीचड भरा हेाने के कारण लगभग 10 से 12 किलोमीटर का चक्कर लगाकर अपने गंतव्य तक पहॅुचते हैं। इस रास्ते का उपयोग करने वाले ग्रामीणजनों का कहना है कि इस रास्ते पर टेªक्टर निकलने के कारण भी यह रास्ता अत्यंत खराब हो गया है जहॉं से पैदल तक निकलना मुष्किल हो गया है। इस रास्ते से पास ही रहने वाले नीरज पचौरी का कहना है कि मैं यहॉं से प्रतिदिन निकलता हॅू। मेरे घर से पक्की सडक मात्र 10 कदम दूरी पर है लेकिन बीच का रास्ता कीचड से भरा होने के कारण लगभग एक घंटे में निकल पाना हो पाता है। इसी प्रकार राहुल दुबे, रामकुमार वर्मा अपने खेतों तक जाने के लिये काफी परिश्रम करना पडता हैं

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY